पीएम मोदी बोले, एक सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान सुधरने वाला नहीं है...

मंगलवार, 1 जनवरी 2019 (22:22 IST)
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक पर विपक्ष से राजनीति नहीं करने की अपील करते हुए कहा कि सीमापार आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान को सुधरने में अभी और समय लगेगा।
 
मोदी ने सोमवार को अपने एक साक्षात्कार ट्‍वीट करते हुए कहा कि एक लड़ाई से पाकिस्तान सुधर जाएगा, यह सोचना बहुत बड़ी गलती होगी। पाकिस्तान को सुधरने में अभी और समय लगेगा। प्रधानमंत्री ने यह टिप्पणी उस सवाल के जवाब में की जो पाकिस्तान की ओर से सीमा पार आतंकी हमलों के बारे में पूछा गया था।
 
सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में एक प्रश्न के उत्तर में मोदी ने कहा कि कांग्रेस इसे लेकर राजनीति कर रही है और सेना के बारे में मनोबल गिराने वाली बातें की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में पाकिस्तान को जानकारी दी गई थी और यह पूरी तरह से सुनियोजित थी।
 
प्रधानमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान क्षेत्र में की गई सर्जिकल स्ट्राइक की दो बार तारीखें बदली गई थी और वह स्वयं इसकी निगरानी कर रहे थे।
 
उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक से मैं ‘लाइव’ जुड़ा हुआ था और तय किया गया था कि सूर्योदय से पहले अभियान पूरा कर लिया जाएगा। जवान जिंदा लौटे, यह प्राथमिकता थी। सर्जिकल स्ट्राइक के समय मुझे अपनी सेना की शक्ति का अहसास हुआ।
 
मोदी ने कहा कि भारत ने कभी भी पाकिस्तान के साथ बातचीत का विरोध नहीं किया है लेकिन उसे पहले आंतकवाद बंद करना होगा। उन्होंने कहा कि भारत ने दुनिया भर में पाकिस्तान के खिलाफ दबाव बनाया है जिसके कारण वह अलग-थलग पड़ा हुआ है।
 
एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि डोकलाम में भारत के साथ कोई धोखा नहीं हुआ। भारत अपने सभी पड़ोसियों के साथ अच्छे संबंध चाहता है।
 
अपनी विदेश यात्राओं के संबंध में मोदी ने कहा कि सभी प्रधानमंत्री इतनी ही विदेश यात्राएं करते थे लेकिन उन पर कोई ध्यान नहीं देता था। उन्होंने कहा कि मैं जाता हूं तो देश को पता चलता है और दुनिया उस पर ध्यान देती है। प्रधानमंत्री के विदेश दौरे देश हित में अनिवार्य होते हैं। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख पीएम मोदी ने सुनाई सर्जिकल स्ट्राइक की पूरी कहानी, कैसे मुश्किल भरा था वो एक घंटा...