2019 में पहली बार पीएम मोदी ने की मन की बात, जानिए खास बातें

रविवार, 27 जनवरी 2019 (11:15 IST)
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2019 में पहली बार भारतीयों को मन की बात कार्यक्रम के जरिए देशवासियों को संबोधित किया। जानिए पीएम मोदी के भाषण की 10 खास बातें... 
 
चुनाव आयोग की सराहना : मोदी ने मन की बात में लोकतंत्र की मजबूती के लिए चुनाव आयोग की जमकर सराहना की। उन्होंने कहा कि देश के हर व्यक्ति को चुनाव आयोग पर गर्व। 25 जनवरी को चुनाव आयोग का स्थापना दिवस था।
 
वोट देना हम सबका फर्ज : उन्होंने कहा कि वोट देना हम सबका फर्ज है। युवाओं को मतदान के लिए रजिस्ट्रेशन कराना चाहिए। वोट न देने पर हमें दुख होना चाहिए।
 
नेताजी को सुभाषचंद्र बोस को इस तरह किया याद : उन्होंने कहा कि मेरी तरह नेताजी का भी रेडियो से गहरा नाता था। 1942 में उन्होंने आजाद हिंद रेडियो की स्थापना की थी। वह अकसर रेडियो पर लोगों से संवाद किया करते थे। उन्होंने कहा कि नेताजी वीर सैनिक के लप में हमेशा याद रहेंगे। लाल किले में नेताजी का संग्रहालय भी बनाया गया है।

जाति-पाति और धर्म के नाम पर न हो बंटवारा : पीएम ने कहा कि जाति-पाति और धर्म के नाम पर न हो बंटवारा नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि समाज को जाति के नाम पर बांटना गलत। उन्होंने इस अवसर पर संत रविदास को भी याद किया। 
 
जल्द ही चांद पर होगा भारत : प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सैटेलाइट की वजह से भारत के दुनिया के कई देशों से मजबूत संबंध है। हम जल्द ही चांद पर मौजूदगी दर्ज कराने वाले हैं। उन्होंने कहा कि स्पेस तकनीक से सरकारी सेवाएं बेहतर होगी। उन्होंने विक्रम साराभाई को याद करते हुए कहा कि उनका स्पेस टेक्नोलॉजी में बड़ा योगदान है। 

शिवकुमार स्वामी को दी श्रद्धांजलि : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिद्ध गंगा मठ के शिवकुमार स्वामीजी को अब्दुल कलाम की कविता के जरिए श्रद्धांजलि दी। 21 जनवरी को हुआ था स्वामीजी का निधन। उन्होंने कहा कि स्वामी जी के जीवन में यह प्राथमिकता रहती थी कि लोगों को भोजन, आश्रय, शिक्षा और आध्यात्मिक ज्ञान मिले तथा किसानों का हर तरह से कल्याण हो। सिद्धगंगा मठ नियमित रूप से पशु और कृषि मेलों का भी आयोजन करता था।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख सुब्रमण्यम स्वामी बोले, प्रियंका गांधी को है बीमारी, लोगों की करती हैं पिटाई