Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को अंतिम विदाई, पीएम मोदी ने दी श्रद्धांजलि

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
मंगलवार, 1 सितम्बर 2020 (14:02 IST)
नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री प्रणब मुखर्जी का सोमवार को दिल्ली में निधन हो गया। वे 84 वर्ष के थे। प्रणब मुखर्जी के निधन के बाद केंद्र सरकार ने 7 दिनों के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है। प्रणब दा का लोधी रोड श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार किया गया।


01:59 PM, 1st Sep
सीमित लोगों की मौजूदगी में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का पूरे सम्मान के साथ अंतिम संस्कार। लोधी रोड श्मशान घाट में उनके पुत्र अभिजीत मुखर्जी ने अंतिम संस्कार किया गया। लंबे समय से बीमार चल रहे प्रणब मुखर्जी को कोरोना संक्रमण भी था। 84 साल की उम्र में सोमवार शाम प्रणब दा का निधन हो गया था।

12:41 PM, 1st Sep
-ज्योतिरादित्य सिंधिया पुर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी जी के अंतिम दर्शन और श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंचे। 

10:45 AM, 1st Sep
-राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी पूर्व राष्‍ट्रपति को श्रद्धांजलि दी। 
-कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी भी प्रणब दा को श्रद्धांजलि देने घर पहुंचे। 
-भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी प्रणब मुखर्जी को श्रद्धांजलि दी।

10:03 AM, 1st Sep
-पीएम मोदी ने प्रणब मुखर्जी को श्रद्धांजलि दी। बेटे अभिजीत और बेटी शर्मिष्ठा को दी सांत्वना।
-लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला भी 10 राजाजी मार्ग पर प्रणब दा को श्रद्धांजलि देने पहुंचे।

09:56 AM, 1st Sep
-रक्षा मंत्री राजनाथसिंह ने पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी को श्रद्धांजलि दी। 
-CDS जनरल बिपिन रावत के साथ ही तीनों सेना प्रमुखों ने भी राष्ट्रपति को श्रद्धांजलि दी।

09:30 AM, 1st Sep
-घर पहुंचा प्रणब मुखर्जी का पार्थिव शरीर, आज 2 बजे होगा अंतिम संस्कार।

09:14 AM, 1st Sep
-प्रणब मुखर्जी के पार्थिव शरीर को आरआर अस्पताल से घर ले जाया जा रहा है।

08:52 AM, 1st Sep
-भारतीय मूल के मशहूर ब्रिटिश उद्योगपति लॉर्ड स्वराज पॉल ने भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उन्हें उत्कृष्ट व्यक्तित्व बताया और कहा कि उन्होंने अपना पूरा जीवन राष्ट्र के कल्याण के लिए समर्पित कर दिया।

08:01 AM, 1st Sep
-सुबह 8 बजे प्रणब का पार्थिव शरीर उनके निवास स्थान पर लाया जाएगा।
-सुबह साढ़े 9 बजे रक्षा मंत्री राजनाथसिंह प्रणब मुखर्जी को श्रद्धांजलि देंगे।
-सुबह 10 बजे राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री पूर्व राष्ट्रपति को श्रद्धांजलि देंगे।
-सुबह 11 से 12 बजे तक आम लोग प्रणब दा को श्रद्धांजलि देंगे।
-दोपहर 2 बजे लोधी रोड श्मसान घाट पर उन्हें अंतिम विदाई दी जाएगी।

08:00 AM, 1st Sep
-राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और तमाम राजनीतिक दलों के नेताओं ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर शोक जताते हुए उन्हें ऐसा प्रबुद्धजन बताया जिसने पूरी निष्ठा से देश की उत्कृष्ट सेवा की है।
-प्रणब मुखर्जी ने जुलाई 2012 में भारत के 13वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली थी। वह 25 जुलाई 2017 तक इस पद पर रहे थे। प्रणब मुखर्जी को 26 जनवरी 2019 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

07:59 AM, 1st Sep

-लंबे समय तक कांग्रेस के नेता रहे मुखर्जी सात बार सांसद रहे। अस्पताल में भर्ती कराये जाने के समय वह कोविड-19 से संक्रमित पाये गए थे।
-साथ ही उनके फेफड़ों के संक्रमण का भी इलाज किया जा रहा था। उन्हें इसके चलते रविवार को ‘सेप्टिक शॉक’ आया था।
-चिकित्सकों ने कहा कि शाम साढ़े चार बजे दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया।

07:58 AM, 1st Sep
-मुखर्जी को गत 10 अगस्त को सेना के ‘रिसर्च एंड रेफ्रल हास्पिटल’ में भर्ती कराया गया था। उसी दिन उनके मस्तिष्क की सर्जरी की गई थी। उनके परिवार में दो पुत्र और एक पुत्री हैं।

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
IPL 2020 : ...तो क्या सुरेश रैना की आईपीएल छोड़ने की यह वजह थी