Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

शाम 5 बजे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का राष्ट्र के नाम संबोधन, जानिए क्या कह सकते हैं मोदी...

webdunia
सोमवार, 7 जून 2021 (13:41 IST)
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज सोमवार शाम 5 बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय ने स्वयं ट्‍वीट कर यह जानकारी दी है। 
 
बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी अपने संबोधन में कोरोनावायरस की दूसरी लहर से उत्पन्न स्थितियों पर चर्चा कर सकते हैं। वे राज्यों में वैक्सीन बंटवारे से लेकर वैक्सीनेशन का रोडमैप भी दे सकते हैं। अनलॉक 2.0 पर भी अपने विचार रख सकते हैं। 
 
ऐसा भी कहा जा रहा है कि पीएम अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए राहत पैकेज का भी ऐलान कर सकते हैं। वे लोगों से कोरोना को लेकर सावधानी बरतने की अपील भी कर सकते हैं। जिस तरह से पिछली बार उन्होंने कहा था कि ढिलाई नहीं कड़ाई। ऐसा ही कोई नया नारा इस बार मोदी दे सकते हैं। 
 
यह तय है कि इस बार मोदी ऐसा कोई संदेश नहीं देंगे, जिससे लोगों को परेशानी हो। क्योंकि दूसरी लहर में जिस तरह लोगों को नुकसान उठाना पड़ा है, उससे वे पहले से ही सदमे में हैं और कोई झटका सहने को तैयार नहीं है। इसके साथ बंगाल चुनाव में रैलियों और वहां मिली करारी हार के बाद से स्वयं प्रधानमंत्री बैकफुट पर हैं। ऐसे में उनकी कोशिश यह रही रहेगी कि वे जनता को राहत ही दें। 
 
आपको बता दें कि इससे पहले भी नरेन्द्र मोदी 8 बार कोरोना को लेकर राष्ट्र को संबोधित कर चुके हैं। आइए जानते हैं मोदी ने कब-कब राष्ट्र को संबोधित किया...
  • पहला : 19 मार्च 2020- 29 मिनट का भाषण, जनता कर्फ्यू की अपील
  • दूसरा : 24 मार्च 2020- 29 मिनट का भाषण, 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान
  • तीसरा : 3 अप्रैल 2020- 12 मिनट का वीडियो संदेश, 9 मिनट लाइटें बंद करने की अपील
  • चौथा : 14 अप्रैल 2020- 25 मिनट का भाषण, देश में 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ाया
  • पांचवां : 12 मई 2020- 33 मिनट का भाषण, आत्मनिर्भर भारत अभियान के लिए 20 लाख करोड़ रुपए का पैकेज
  • छठवां : 30 जून 2020- 17 मिनट का भाषण, अन्न योजना नवंबर तक बढ़ाने की घोषणा
  • सातवां : 20 अक्टूबर 2020- बिहार में वोटिंग से 8 दिन पहले उन्होंने अपील की- जब तक कोरोना की दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं।
  • आठवां : 20 अप्रैल 2021 - 19 मिनट का भाषण, राज्यों से कहा कि देश को लॉकडाउन से बचाना है। सरकारें इसे आखिरी विकल्प के तौर पर इस्तेमाल करें।
 
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Fact Check: क्या कोरोना से मरने वालों को 4 लाख रुपए दे रही सरकार? जानिए पूरा सच