Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कौन हैं JNU की पहली महिला कुलपति, जिनके नाम हैं इतनी उपलब्धि‍यां

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 7 फ़रवरी 2022 (14:04 IST)
देश की सबसे चर्च‍ित जवाहर लाल नेहरू विश्‍वविद्याल यानी जेएनयू (JNU) की कमान अब एक महिला के हाथ में सौंपी गई है। दूसरी बात यह है कि पहली बार इस यूनिवर्सिटी में कोई महिला कुलपति होगी। इनका नाम शांतिश्री धुलीपुड़ी पंडित हैं।

जी, हां पुणे यूनि‍वर्सिटी की प्रोफेसर शांतिश्री धुलीपुड़ी पंडित को जेएनयू का नया वाइस चांसलर नियुक्‍त किया गया है। वे जेएनयू की पहली महिला वीसी हैं।

पंडित सोमवार को ही य‍ह पदभार ग्रहण करेंगी। बता दें कि पुणे यूनिवर्सिटी में पॉलिटिक्‍स और पब्लिक एडमिनिस्‍ट्रेशन पढ़ाने वाली प्रोफसर पंडित का जन्‍म रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में हुआ है।

उन्‍होंने प्रारंभि‍क पढ़ाई मद्रास (अब चेन्‍नै) से की। इसके साथ ही जेएनयू से एम.फिल में टॉप किया। फिर यहीं से पीएचडी भी की। 1996 में उन्‍होंने स्‍वीडन की उप्‍पसला यूनविर्सिटी से डॉक्‍टोरल डिप्‍लोमा हासिल किया।

हिंदी, अंग्रेजी, मराठी, तमिल जैसी छह भाषाओं में दक्ष प्रोफेसर पंडित कन्‍नड़, मलयालम और कोंकणी भी समझ लेती हैं।

प्रोफसर पंडित के पिता सिविल सर्विसिज में थे। मां लेनिनग्राद (अब सेंट पीटर्सबर्ग) ओरियंटल फैकल्‍टी डिपार्टमेंट में तमिल और तेलुगू की प्रोफेसर रहीं हैं। शि‍क्षण में 34 साल से ज्‍यादा का अनुभव रखने वाली शांतिश्री धुलीपुड़ी पंडित ने पुणे यूनिवर्सिटी के अलावा गोवा यूनिवर्सिटी, ओस्‍मानिया यूनिवर्सिटी, रक्षाशक्ति यूनिवर्सिटी, मद्रास यूनिवर्सिटी में भी पढ़ाया है। इसके अलावा वह केंद्र सरकार की कई अहम समितियों में भी शामिल रही हैं।

अंतराष्‍ट्रीय विषयों पर बेहतरीन पकड़ रखने वाली प्रोफेसर पंडित ने कई रिसर्च प्रॉजेक्‍ट्स किए हैं। वहीं दुनिया के कई नामी संस्‍थानों में उनकी फेलोशिप है। राष्‍ट्रीय-अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर उन्‍हें कई सम्‍मानों से भी नवाजा जा चुका है।

ये किताबें लिखी प्रोफेसर पंडित ने
  • Parliament and Foreign Policy in India, New Delhi
  • Restructuring Environmental governance in Asia-Ethics and Policy, (Sole editor)
  • Cultural Diplomacy: Buddhism and India’s Look East Policy [co-author Dr. Rimli Basu]
  • Retreat of the State: Implications of Drug Trafficking in Asia [co-author Dr. Rimli Basu]
प्रफेसर पंडित ने भारत और दुनिया के राजनीतिक परिदृश्‍यों पर कई रिसर्च पेपर प्रकाशित किए हैं जिनका ब्‍योरा पुणे यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर मौजूद उनके सीवी में है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को अश्लील व्हाट्सअप कॉल,वीडियो भेज ब्लैकमेल की कोशिश, FIR दर्ज