अब आकाशवाणी पर सुनिए प्रयागराज कुंभ के शाही स्नान का आंखों देखा हाल...

प्रयागराज। अगर आप किसी भी कारण से उत्तरप्रदेश में आयोजित होने वाले ऐतिहासिक महाकुंभ का हिस्सा नहीं बन पा रहे हैं तो घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि सरकार अब आपको घर बैठे ऐतिहासिक महाकुंभ के दर्शन का आंखों देखा हाल सुनाने की व्यवस्था करने जा रही है।


इसके लिए आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है, अपने घर में रेडियो की व्यवस्था करनी होगी और ट्यून करना होगा आकाशवाणी का कुंभवाणी चैनल जो आपको ऐतिहासिक महाकुंभ की पल-पल की जानकारी आपके पास पहुंचाता रहेगा और आपको एहसास दिलाता रहेगा कि आप ऐतिहासिक नगरी प्रयागराज के महाकुंभ नगरी में शाही स्नान के साथ भ्रमण कर रहे हैं।

इसको लेकर सरकार ने पूरा खाका तैयार कर लिया है और ऐतिहासिक महाकुंभ के पहले इस चैनल को ऑन एयर करने की तैयारी भी कर ली है, जिसके लिए ऐतिहासिक महाकुंभ कार्यक्रमों के सुगम प्रसारण के लिए आकाशवाणी की ओर से सेक्टर चार में अस्थाई स्टूडियो स्थापित किया जा रहा है।

मेले में बनने वाले स्टूडियो से कुंभ के मुख्य स्नान पर्व, धार्मिक-सांस्कृतिक आयोजन, यज्ञ-अनुष्ठान, साक्षात्कार, दर्शन-पूजन और अध्यात्म की आभा का सजीव प्रसारण किया जाएगा। अधिकारियों से बातचीत के दौरान जो बातें बाहर निकलकर आई हैं उनके अनुसार कुम्भवाणी का प्रसारण 5 जनवरी से 12 मार्च तक होगा।

कुंभवाणी का प्रसारण एफएम चैनल पर भी होगा। कुंभवाणी का प्रसारण 103.1 मीटर हर्ट्ज पर होगा। आकाशवाणी की ओर से मेले की हर गतिविधि को यू-ट्यूब पर देख व सुन सकते हैं। देश-विदेश में बैठे लोग भी ऐतिहासिक कुंभ मेले का आनंद ले सकते हैं। मेले का प्रसारण रोज सुबह 5:53 से रात 10:05 तक किया जाएगा।

कुछ इस प्रकार से होंगे कुंभ के कार्यक्रम :
1. सुबह 10:05 बजे धरोहर हमारे प्रयाग की
2. 11:30 बजे विविधता में एकता
3. 12:10 पर खोए हुए व्यक्तियों के बारे में जानकारी
4. दोपहर 2:30 बजे कुम्भ चर्चा
5.  6:15 अमृत वर्षा
6. शाम 7:31 बजे संगम तट से
7. 9:15 बजे कुम्भ नगरी से
8. रात 10 बजे अगले दिन कुम्भ नगरी के विवरण का प्रसारण

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख शिवराज की संबल और भावांतर योजना पर मंडराया खतरा, कमलनाथ सरकार ने की बंद करने की तैयारी