मौसम अपडेट : पहाड़ों पर भारी बर्फबारी से इन राज्यों में बढ़ सकती है ठंड

मंगलवार, 22 जनवरी 2019 (10:04 IST)
नई दिल्ली। मौसम ने अचानक करवट ली, जिससे आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पहाड़ों पर बर्फबारी से आफत है तो मैदानी इलाकों में बारिश और तेज हवाओं की वजह से ठंड ने और मुसीबत बढ़ा दी है। ठंड के कारण लोग घरों में दुबकने को मजबूर हैं। मौसम का असर यातायात पर भी देखने को मिल रहा है। दिल्ली के कई इलाकों में ओले भी गिरे हैं। मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली में 26 जनवरी तक ऐसा ही मौसम रहने के आसार हैं।

खबरों के अनुसार देश के कई इलाकों में कोहरे के चलते विजिबिलिटी कम होने से कई ट्रेनें भी देरी से चल रही हैं। दिल्ली-एनसीआर में बारिश की शुरुआत सोमवार शाम से हो गई थी। मंगलवार देर रात से फिर बादल बरसने लगे, जिसने ठंड को बढ़ा दिया।

ट्रेनों पर असर : राजधानी दिल्ली में कोहरे और खराब मौसम का असर ट्रेनों और फ्लाइट्स पर भी देखा जा रहा है। कोहरे और कम दृश्यता की वजह से दिल्ली आने वाली करीब 15 ट्रेंने अपने तय समय से देरी से चल रही हैं। दिल्ली से बाहर जाने वाली ट्रेनों का भी यही हाल है। कोहरे की चादर में उत्तर भारत के ज्यादातर इलाके लिपटे हुए हैं। बारिश के कारण सबसे ज्यादा परेशानी स्कूली बच्चों को हो रही है।

मंगलवार सुबह दिल्ली और एनसीआर के नजारे ने लोगों को हैरान कर दिया। दिल्ली और उससे सटे नोएडा, गाजियाबाद, गुड़गांव और फरीदाबाद में सुबह 9 बजे ऐसा अंधेरा छाया, मानों रात हो गई हो। सड़कों पर वाहन हेडलाइट्स जलाकर चलने लगे।

पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी : मौसम के मुताबिक वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के कारण बारिश और तेज हवाओं का असर सामने नजर आ रहा है। इसकी वजह से ही हिमालय के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी भी हो रही है। जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के ऊपरी इलाकों में बर्फबारी की वजह से पारा शून्य के नीचे पहुंच गया है। एक तरफ उन इलाकों में रहने वाले आम लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है, लेकिन बर्फबारी का मजा उठाने के लिए पर्यटक उन इलाकों की ओर जा रहे हैं।

जारी रहेगा बारिश का दौर : उत्तर भारत के पहाड़ों पर एक वेस्टर्न डिस्टर्बेंस भी सक्रिय है। इसका असर दिल्ली व आसपास देखने को मिल रहा है। वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के असर से चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र राजस्थान पर बन गया है। यह सिस्टम धीरे-धीरे उत्तर-पूर्वी दिशा में बढ़ रहा है। अनुमान है कि अगले 4 से 5 दिनों तक बारिश का यह दौर जारी रहेगा। बारिश की वजह से अगले 3 से 5 दिनों तक अधिकतम तापमान में भी काफी गिरावट आने की संभावना है।

हल्की बारिश के साथ ओले गिरे : मध्यप्रदेश के नीमच जिले के 6 गांवों में सोमवार को हल्की बारिश के साथ ओले गिरे। इससे किसानों की चिंता बढ़ गई है। फसलों में फूल आ चुके हैं और बारिश-ओले से इन्हें नुकसान की आशंका है। मौसम विभाग के अनुसार क्षेत्र में एक-दो दिन बादल छाए रहेंगे। हल्की बारिश हो सकती है। इसके बाद घना कोहरा छाने और हवाएं चलने से सर्दी बढ़ सकती है।

केदारनाथ में तापमान पहुंचा -6 डिग्री : केदारनाथ में भारी बर्फबारी हुई। इसके चलते यहां पारा -6 डिग्री तक पहुंच गया। केदारनाथ धाम में 2 फुट तक बर्फ जमा हो गई। देहरादून में प्रशासन ने सभी सरकारी स्कूल और आंगनवाड़ी केंद्र मंगलवार को बंद रखने के आदेश दिए।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख पाकिस्तान ने करतारपुर गलियारा प्रस्ताव का मसौदा भारत के साथ किया साझा