दिल्ली पुलिस के लिए रहस्य बनी रोहित शेखर तिवारी की मौत, परिवार के सभी सदस्य हिरासत में

सोमवार, 22 अप्रैल 2019 (09:21 IST)
नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री स्व. नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी हत्याकांड में अब तक दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को कोई सटीक सुराग नहीं मिलने से वह किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच पाई है। क्राइम ब्रांच ने पिछले तीन दिनों से घर को जांच केंद्र बना रखा है। परिवार के सभी सदस्य हिरासत में हैं, उन पर 24 घंटे नजर रखकर उनसे लगातार पूछताछ की जा रही है।

सूत्रों ने बताया कि पुलिस रोहित तिवारी की हत्या के मामले में अपूर्वा को मुख्य संदिग्ध मान रही है। दिल्ली पुलिस ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद रोहित तिवारी की हत्या के मामले में गुरुवार को मामला दर्ज किया था। रिपोर्ट में बताया गया कि तिवारी की हत्या गला घोंटे जाने के कारण सांस रुकने से हुई है।

क्राइम ब्रांच ने दक्षिणी दिल्ली के डिफेंस कॉलोनी में रोहित तिवारी के घर पर शनिवार को अपूर्वा से आठ घंटे पूछताछ की थी। रोहित शेखर की मां उज्ज्वला ने रविवार को आरोप लगाया कि अपूर्वा और उसके परिवार वालों की नजर रोहित की संपत्ति पर थी। गौरतलब है कि रोहित की 16 अप्रैल को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख पाक की परमाणु धमकी पर बोले पीएम मोदी, हमने दीवाली के लिए नहीं रखे अपने बम