सिद्धू पाकिस्तानी पंजाब से चुनाव लड़ सकते हैं, जीतेंगे भी...

बुधवार, 28 नवंबर 2018 (16:40 IST)
करतारपुर। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने करतारपुर कोरिडोर की आधारशिला रखने के मौके पर बुधवार को कहा कि नवजोतसिंह सिद्धू पाकिस्तान आ सकते हैं और पंजाब से चुनाव भी लड़ सकते हैं। 
 
इमरान ने कहा कि मैंने सुना है कि मेरे शपथ समारोह में आने के बाद भारत में सिद्धू की काफी आलोचना हुई थी। मैं नहीं जानता कि आखिर उनकी आलोचना क्यों हुई, वे तो शांति और भाईचारे की बात कर रहे थे। 
 
उन्होंने कहा कि सिद्धू पाकिस्तान आ सकते हैं और पंजाब से चुनाव लड़ सकते हैं और वे वहां से जीतेंगे भी। खान ने उम्मीद जताई कि भारत और पाकिस्तान के बीच मित्रता के लिए हमें सिद्धू के प्रधानमंत्री बनने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। 
 
उल्लेखनीय है कि करतारपुर साहिब को भारत के गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक से जोड़ा जाएगा। इस मौके पर भारत की तरफ से गए प्रतिनिधिमंडल में केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल, शहरी विकास मंत्री हरदीपसिंह पुरी और पंजाब के नगर विकास मंत्री नवजोतसिंह सिद्धू के अलावा पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा, विदेश मंत्री शाह मोहम्मद कुरैशी, आंतरिक राज्यमंत्री शहरयार अफरीदी, पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बजदार और विदेशी राजनयिक मौजूद थे।
      
आधारशिला रखे जाने के अवसर पर बड़ी संख्या में सिख यात्री और भारत से गए पत्रकारों का दल भी उपस्थित था। समारोह सिख समुदाय के श्रद्धालुओं की एक फिल्म दिखाने के साथ शुरू हुआ। भारतीय प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को वाघा सीमा के रास्ते पाकिस्तान पहुंचा था।
 
भारत ने पिछले सप्ताह करतारपुर गलियारे को बनाए जाने की मंजूरी दी थी। इसके बन जाने से भारत में रहने वाले सिख गुरुद्वारा दरबार साहिब के दर्शन करने जा सकेंगे। इसके लिए कोई वीजा नहीं लगेगा। पाकिस्तान भारतीय सीमा से गुरुद्वारा दरबार साहिब तक का गलियारा बनाएगा, जबकि गुरदासपुर जिले के डेराबाबा नानक तक का गलियारे का निर्माण भारत करेगा। (वेबदुनिया/एजेंसी)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मध्यप्रदेश में 1545 खराब VVPAT मशीनें बदली गईं