Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

MCD चुनाव : केजरीवाल को धमकी पर घिरे मनोज तिवारी, EC पहुंची AAP

हमें फॉलो करें webdunia
शुक्रवार, 25 नवंबर 2022 (13:15 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भाजपा पर गुजरात और MCD चुनाव में हार के डर के चलते मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जान से मारने की साजिश रचने का आरोप लगाया। उन्होंने इस मामले में जांच की मांग की। इस बीच आप ने सौरभ भारद्वाज ने चुनाव आयोग पहुंचकर मनोज तिवारी के खिलाफ शिकायत की। पार्टी इस मामले में पुलिस में FIR भी दर्ज कराएगी। 
 
सिसोदिया ने आरोप लगाया कि भाजपा नेता मनोज तिवारी ने केजरीवाल के खिलाफ गुरुवार को जिस प्रकार की भाषा का इस्तेमाल किया, वह खुली धमकी है। उनकी भाषा अरविंद केजरीवाल की हत्या के लिए रची जा रही साजिश की ओर इशारा करती है। हम इस धमकी के लिए मनोज तिवारी को गिरफ्तार किए जाने की भी मांग करते हैं।
 
गुजरात व MCD हारने के डर से बौखलाई व केजरीवाल को अपनी साजिशो मे फंसाने मे फेल भाजपा उनकी हत्या का ताना-बाना बुन रही है। इस तरह खुलेआम दिल्ली के मुख्यमंत्री को हत्या की धमकी देने वाले मनोज तिवारी के खिलाफ सख्त कारवाई करते हुए गिरफ्तार कर इस पूरी साजिश की जांच होनी चाहिए।
 
तिवारी ने इन आरोपों के जवाब में कहा कि वह दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने इस आरोप को खारिज किया कि उनकी पार्टी केजरीवाल को मारने की साजिश रच रही है।
 
तिवारी ने इन आरोपों का जवाब देते हुए कहा, 'एमसीडी चुनाव टिकट बेचने के लिए जिस तरह से ‘आप’ विधायक को उनकी ही पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पीटा है, उसे देखकर मुझे केजरीवाल की सुरक्षा की चिंता हो रही है। भाजपा द्वारा केजरीवाल की हत्या की साजिश रचे जाने के आरोप लगाकर, सिसोदिया एक बार फिर पुराना राग अलाप रहे हैं।'
 
उन्होंने कहा कि वह हर साल केजरीवाल की जान को खतरा होने का दावा करते हैं। मुझे समझ नहीं आ रहा कि क्या चल रहा है...केजरीवाल दावा कर रहे हैं कि सिसोदिया को गिरफ्तार किया जाएगा, जबकि सिसोदिया, केजरीवाल की हत्या की साजिश रचे जाने की बात कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि साल बदल जाते हैं लेकिन इनके आरोप नहीं बदलते।
Edited by : Nrapendra Gupta 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

आखिर कैसे अखाड़े की मिट्टी से विदेशी मेट पर आ गई भारतीय कुश्‍ती?