Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

उमा भारती ने अब ओरछा में शराब दुकान पर फेंका गोबर, कहा - राम की नगरी में शराब बर्दाश्त नहीं

हमें फॉलो करें webdunia
बुधवार, 15 जून 2022 (11:29 IST)
ओरछा। मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता उमा भारती ने शराबबंदी को लेकर अपनी मांग तेज कर दी है। अब उन्होंने ओरछा में शराब दुकान पर गोबर फेंक दिया। ये दुकान ओरछा के मुख्य प्रवेश द्वार के नजदीक की बताई जा रही है। उमा भारती का कहना है कि राम की नगरी में शराब बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कुछ महीनों पहले उमा भारती ने भोपाल की शराब दुकान पर भी पत्थर फेंककर शराबबंदी का समर्थन किया था। 
 
मामला बुधवार का बताया जा रहा है जब उमा भारती कुछ कार्यकर्ताओं के साथ ओरछा के मुख्य प्रवेश द्वार पर स्थित एक शराब दुकान पर पहुंची और दुकान पर गोबर फेंककर विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि ओरछा राम लला की नगरी है, यहां शराब बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने बताया कि पिछले कई दिनों से स्थानीय महिलाओं की इस दुकान को लेकर शिकायतें आ रहीं थीं।  मैं किसी भी हाल में ये दुकान बंद करवा कर रहूंगी। 
उमा भारती इसके पहले भी कई कार्यक्रमों में मध्य प्रदेश में शराबबंदी की मांग उठा चुकी हैं। इसके पहले मार्च 2022 ने उन्होंने भोपाल की शराब दुकान पर पत्थर फेंककर शराब की बोतलें तोड़ी थी। तब भी महिलाओं ने ही उमा से शिकायत की थी कि हमारे पति शराब पीकर हमारे साथ मार-पीट करते हैं। शराबबंदी के बारे में उमा भारती अब तक स्थानीय विधायकों से लेकर मुख्यमंत्री का दरवाजा भी खटखटा चुकी हैं, लेकिन उन्हें कोई मदद नहीं मिली। 
 
ओरछा में इस बार उनके हाथ में पत्थर नहीं गोबर था, जिसे उन्होंने 3 बार दुकान पर फेंका। जिसके बाद उनके साथ उपस्थित कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की। उमा भारती ने कहा कि भोपाल में मेरे द्वारा किए गए विरोध प्रदर्शन के बाद मुझे विश्वास था कि मध्य प्रदेश में शराबबंदी को लेकर कोई ठोस फैसला ले लिया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मैं रामलला से क्षमा मांगती हूं की उनकी पवित्र नगरी में शराब बिक रही है और किसी के द्वारा कोई कार्रवाई भी नहीं की जा रही।  

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 153 अंक टूटा, निफ्टी भी 15,700 से नीचे