Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

चमोली आपदा : 9वें दिन युद्धस्तर पर जारी रेस्क्यू ऑपरेशन, अब तक 54 शव मिले, 179 लोगों की तलाश

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
सोमवार, 15 फ़रवरी 2021 (11:41 IST)
चमोली। उत्तराखंड के चमोली जिले लोगों को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन युद्ध स्तर पर जारी है। चमोली पुलिस के अनुसार तपोवन टनल से आज 3 शव बरामद किए गए, अब तक कुल 54 शव बरामद हो चुके हैं।

जोशीमठ थाने में अब तक कुल 179 लोगों की गुमशुदगी दर्ज की जा चुकी है। NDRF के​ डिप्टी कमांडेंट आदित्य प्रताप सिंह के अनुसार तपोवन टनल से कुल 8 शव बरामद हुए हैं, कल रात के बाद 2 शव बरामद हुए। रैणी से कुल 7 शव बरामद हुए हैं।

तपोवन-विष्णुगाड सुरंग में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए पिछले एक सप्ताह से सेना, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और आईटीबीपी का संयुक्त बचाव अभियान युद्धस्तर पर चल रहा है। जलस्तर बढ़ने के बाद यहां एक पूरी सुरंग मलबे से भर गई थी।
ALSO READ: 24 घंटे डॉक्टरों की निगरानी में रहेंगे मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, हेल्थ बुलेटिन हुआ जारी
अब इस सुरंग से करीब 150 मीटर तक मलबा निकाला जा चुका है। ड्रिलिंग भी शुरू कर दी गई है। एनटीपीसी ने कहा है कि करीब 10 से 12 घंटे में सुरंग के भीतर की स्थिति का पता लग सकेगा। 
 
यूपी के 59 लोग लापता : उत्तराखंड में चमोली जिले के जोशीमठ में 7 फरवरी को हुए हिमस्खलन के बाद से उत्तरप्रदेश के 59 लोग अब भी लापता हैं। प्रदेश के 9 लोगों की इस आपदा के कारण मौत हो चुकी है।
 
उत्तरप्रदेश के राहत आयुक्त संजय गोयल ने यहां जारी एक बयान में कहा कि उत्तराखंड में चमोली जिले के जोशीमठ में ग्लेशियर टूटने की घटना के चलते 14 फरवरी तक उत्तर प्रदेश के नौ लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 59 लोग अभी भी लापता हैं और राज्य के 23 लोगों को बचा लिया गया है।
बयान के मुताबिक लापता 59 लोगों में से 30 लखीमपुर खीरी के हैं। इसके बाद सहारनपुर के 10, श्रावस्ती के पांच, रायबरेली के दो और सोनभद्र, शाहजहांपुर, मुरादाबाद, मिर्जापुर, मथुरा, कुशीनगर, गोरखपुर, देवरिया,चंदौली, बुलदंशहर, आजमगढ़ और अमरोहा के एक-एक व्यक्ति शामिल हैं। (इनपुट भाषा)

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
24 घंटे डॉक्टरों की निगरानी में रहेंगे मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, हेल्थ बुलेटिन हुआ जारी