मौसम अपडेट : बिहार में बाढ़ से हाहाकार, देश के कई हिस्‍सों में जोरदार बा‍रिश

सोमवार, 15 जुलाई 2019 (10:39 IST)
दिल्ली-एनसीआर में आज मानसून की बेरुखी खत्म होने वाली है और हल्की बारिश की संभावना बनी हुई है, जिससे मौसम का मिजाज बदलेगा। इस सप्ताह गर्मी से कुछ राहत मिलने के आसार हैं। दूसरी ओर देश के कई हिस्सों में जोरदार बारिश हो रही है। नेपाल में हुई औसत से 5 से 6 गुणा ज्यादा बारिश के कारण उत्तर और पूर्वी बिहार की नदियों ने रौद्र रूप धारण कर लिया है। उत्तरी बिहार और कोसी के कई क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति गंभीर हो गई है। राज्य में एनडीआरएफ की 5 अतिरिक्त टीमें मांगी गई हैं।

खबरों के मुताबिक, रविवार को दिल्ली-एनसीआर में गर्मी के तेवर अपेक्षाकृत कुछ हल्के रहे। बादल छाए रहने से धूप की चुभन भी कम रही और तापमान में भी आंशिक गिरावट दर्ज की गई। सोमवार को दिल्ली-एनसीआर में हल्की बारिश हो सकती है। मंगलवार से मौसम में और बदलाव आने की संभावना है। इस सप्ताह गर्मी से कुछ राहत मिलने के आसार हैं।

देश के ज्यादातर हिस्सों में मानसून की भारी बारिश आफत बनकर आई है। देश के कई हिस्से इस वक्त बाढ़ की चपेट में हैं। नदियों का जल स्तर बढ़ने के कारण अमस और बिहार के कई इलाके जलमग्न हो गए हैं। असम में बाढ़ से अब तक 7 लोगों की मौत हो गई है। मौसम विभाग ने आने वाले 24 घंटे भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। नेपाल में हुई औसत से 5 से 6 गुणा ज्यादा बारिश के कारण उत्तर और पूर्वी बिहार की नदियों ने रौद्र रूप धारण कर लिया है।

उत्तर बिहार और कोसी के कई क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति गंभीर हो गई है। मधुबनी जिले में कमला बलान में अचानक पानी का प्रवाह इतना तेज हो गया कि इसके तटबंध भरभराने लगे। इस नदी का बायां व दायां दोनों तटबंध आधा दर्जन स्थानों पर टूट गए। भूतही बलान नदी का भी तटबंध क्षतिग्रस्त हुआ है। महानंदा में उफान के कारण किशनगंज-ठाकुरगंज सड़क पर पानी चढ़ गया है। अभी भी पांच नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। कमला ने तो अब तक के उच्चतम स्तर को पार कर लिया है।

राज्य में बाढ़ की गंभीर स्थिति को देखते हुए एनडीआरएफ की पांच अतिरिक्त टीमें मांगी गई हैं। वाराणसी से पांचों टीम रविवार को बिहार के लिए चल चुकी हैं। आज इन्‍हें बाढ़ प्रभावित इलाकों में भेजा जाएगा। जबकि एनडीआरएफ की 14 टीमें पहले से राज्य में लगी हुई हैं। मानसून के जोरदार प्रदर्शन के कारण उत्तर प्रदेश और मेघालय के हिस्सों में मूसलधार बारिश जारी रहने की उम्मीद है। इन सभी राज्यों में 3 अंकों में बारिश रिकॉर्ड की गई।

उत्तरी बिहार, पश्चिम बंगाल के मध्य और उत्तरी भागों, असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और दक्षिणी कोंकण समेत उत्तरी कर्नाटक में मानसून जोरदार बने रहने के आसार हैं। वहीं हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर-पश्चिमी उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, दक्षिणी कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु में मानसून सक्रिय बने रहने की उम्मीद है। पंजाब, कर्नाटक, मध्य महाराष्ट्र, दक्षिणी गुजरात में मानसून की स्थिति सामान्य बनी रह सकती है।

इसके अलावा राजस्थान, उत्तरी मध्य प्रदेश, दक्षिणी उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, उत्तरी ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड और दक्षिण-पश्चिमी बिहार में मानसून कमजोर होने की संभावना है। पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में मानसून की स्थिति कमजोर होने से बारिश में कमी देखने को मिल रही है, लेकिन आज पंजाब, हरियाणा और उत्तर-पश्चिमी उत्तर प्रदेश में इस दौरान बारिश की गतिविधियों में तेजी देखने को मिल सकती है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख 71 साल में पहली बार इंदौर एयरपोर्ट से दुबई के लिए पहली अंतरराष्ट्रीय उड़ान