Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Weather updates : मुंबई में भारी बारिश का अनुमान, राज्य के 3 जिलों के लिए हाईअलर्ट जारी

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
शुक्रवार, 26 जुलाई 2019 (20:57 IST)
मुंबई। मौसम विभाग ने शुक्रवार को महाराष्ट्र के 3 जिलों रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग के लिए 'ऑरेंज अलर्ट' जारी करते हुए अगले 24 घंटों में मुंबई, ठाणे और नवी मुंबई में भारी से बहुत भारी बारिश होने का अनुमान जताया है। ऑरेंज अलर्ट इसलिए जारी किया जाता है कि ताकि प्राधिकारी जरूरी कदम उठाने के लिए तैयार रहें।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा, हमने रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। ऑरेंज अलर्ट प्राधिकारियों को तैयारियों के लिए सचेत करने, जबकि रेड अलर्ट खराब हालात के मद्देनजर उन्हें कार्रवाई करने का निर्देश देने के लिए होता है।

अधिकारी ने कहा, मुंबई, ठाणे और रायगढ़ जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है जबकि पालघर जिले के छिटपुट इलाकों में भारी बारिश का अनुमान है। मुंबई में पिछले 2 दिन में हुई बारिश से शहर के सियोन, माटुंगा, माहिम, अंधेरी, मलाड और डहीसार समेत कई इलाकों में जलभराव और जाम की समस्या उत्पन्न हो गई है।
webdunia

राजस्थान के कई हिस्सों में मूसलधार बारिश : राजस्थान के सीकर, दौसा, जयपुर और झुंझुनूं सहित अनेक स्थानों पर देर रात से हो रही बारिश के चलते आम जनजीवन प्रभावित हुआ है। टोंक में तो हालात इतने खराब हुए कि पूरा शहर ही तालाब में तब्दील हो गया।

मौसम विभाग के प्रवक्ता के अनुसार शुक्रवार सुबह से दोपहर तक जयपुर में 84 मिलीमीटर, ओर दौसा में 83 मिमी बारिश जबकि गुरुवार रात से दोपहर तक झुंझुनूं में 140 मिलीमीटर और सीकर में 127.6 बारिश दर्ज की गई।
webdunia

राजधानी जयपुर में सुबह से ही तेज बारिश होने के कारण स्कूल जाने वाले बच्चों और उनके परिजन को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कई स्थानों पर सड़कों पर पानी भरने के कारण यातायात अवरुद्ध रहा।

प्रभारी अधिकारी विजेन्द्र सिंह ने बताया कि सीकर में गुरुवार को भारी बारिश के कारण पानी के तेज बहाव में 3 लोगों के बहने की सूचना मिली थी। आपदा राहत, प्रशासन और पुलिस ने 2 व्यक्तियों के शवों को खोज लिया है जबकि 1 की तलाश जारी है। मौसम विभाग ने राज्य के बांरा, झुंझुनूं, सीकर और चूरू जिलों में मूसलाधार बारिश होने की संभावना जताई है।

ओडिशा में भी भारी बारिश का अनुमान : ओडिशा के कई हिस्सों में शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन भी बारिश हुई। मौसम विभाग ने अगले 2 दिनों में भी कई इलाकों में भारी बारिश का अनुमान जताया है। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती गतिविधियों और मानसून की सक्रियता से बारिश हो रही है।

अधिकारी ने कहा कि राज्य के कई इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश या गरज के साथ छींटे पड़े हैं। उन्होंने कहा कि सुंदरगढ़, केंझार, अंगुल, देवरिया और संबलपुर समेत कई जिलों के कुछ इलाकों में शनिवार को भारी से बहुत भारी बारिश होने का अनुमान है। इसी प्रकार ढेंकनाल, झारसुगुड़ा, कालाहांडी और कोरापुट समेत कई जिलों के कुछ इलाकों में भारी बारिश होने की संभावना है।

अधिकारी ने बताया कि कोरापुट, नवरंगपुर, नौपाड़ा और कालाहांडी समेत कई जिलों के कुछ इलाकों में रविवार को भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने मछुआरों को शनिवार और रविवार को समुद्र में मछली पकड़ने के लिए नहीं जाने की सलाह दी है।

मध्यप्रदेश में कई स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी : मध्यप्रदेश में अगले 48 घंटों के दौरान प्रदेश के 26 जिलों में भारी बारिश हो सकती है। मौसम विज्ञान भोपाल केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक पीसी साहा ने बताया कि बंगाल की खाड़ी पर बना कम दबाव का क्षेत्र एवं साइक्लोनिक सर्कुलेशन की वजह से आ रही पर्याप्त नमी से 48 घंटों के दौरान प्रदेश में अनेक स्थानों पर भारी बारिश होने की चेतावनी दी है। उन्होंने बताया कि 31 जुलाई को बंगाल की खाड़ी में एक और सिस्टम बन रहा है।

उन्होंने बताया कि उज्जैन, मंदसौर, नीमच, रतलाम, शाजापुर, होशंगाबाद, बैतूल, हरदा, राजगढ़, रायसेन, सीहोर, दतिया, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, श्योपुर, धार, अलीराजपुर, झाबुआ, खंडवा, सागर, दमोह, छतरपुर, रीवा, सतना और छिंदवाड़ा जिलों में भारी बारिश हो सकती है। अगले चौबीस घंटों में प्रदेश में अनेक स्थानों पर वर्षा होने की संभावना है। भोपाल में भी तेज हवा के साथ वर्षा हो सकती है।

उत्तर प्रदेश में मानसून पूरी तरह सक्रिय : उत्तर प्रदेश में मानसून पूरी तरह सक्रिय है और पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के अनेक हिस्सों में बारिश हुई। आंचलिक मौसम केन्द्र की रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण पश्चिमी मानसून पूरे राज्य में सक्रिय हो गया है। खासकर राज्य के पूर्वी हिस्सों में इसने खासा जोर पकड़ लिया है।

पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के लगभग सभी भागों में ज्यादातर स्थानों पर बारिश हुई। इस अवधि में कुछ जगहों पर भारी से बहुत भारी वर्षा भी हुई। इस दौरान बरेली में सबसे ज्यादा 13 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई।

इसके अलावा बर्डघाट और मौदहा में 12-12, कायमगंज तथा मेरठ में 10-10, बांदा में 9, करछना, कासगंज और अतरौली में 7-7 सेंटीमीटर वर्षा रिकार्ड की गई। अगले 24 घंटों के दौरान भी राज्य के ज्यादातर हिस्सों में बारिश होने की संभावना है।

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
खराब मौसम ने रोकी अमरनाथ यात्रा, लेह राजमार्ग अभी भी बंद