Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

raksha bandhan 2020 : 3 अगस्त को राखी बंधे हाथ से भाई करें शुभ दान

webdunia
rakhi festival 2020


राखी की डोरी भाई के जीवन में शुभ शक्तियों का संचार करती है। यह नाजुक धागा भाई को संकटों से बचाता है। सही मायनों में बहन की रक्षा का संकल्प चाहे भाई द्वारा देने का रिवाज हो पर वास्तविकता यह है कि बहन के शुभ हाथों से बंधा यह धागा भाई का बाहरी ताकतों, आपदा और कष्टों से रक्षा करता है। राखी बंधने के बाद भाई अगर अपनी राशि के अनुसार शुभ दान करें तो राखी का यह बंधन उनके लिए और भी पवित्र हो जाता है।
 
मेष राशि : इस राशि के भाई राखी बांधने के उपरांत मंगल का दान करें। (लाल रंग की वस्तुएं)
 
वृषभ राशि : इस राशि के भाई शुक्र का दान करें। (सफेद, क्रीम और चमकीले रंग की वस्तुएं)
 
मिथुन राशि : इस राशि के भाई बुध का दान करें तो उनके लिए शुभ होगा। (हरे रंग की वस्तुएं)
 
कर्क राशि : इस राशि के भाई राखी बंधने के पश्चात चंद्र से संबंधित सामग्री का दान करें। (चमकीले रंग की वस्तुएं)
 
सिंह राशि : इस राशि के भाई सूर्य ग्रह से संबंधित चीजें दान करें। (नारंगी और तेज लाल रंग की वस्तुएं)
 
कन्या राशि : इस राशि के भाई बहन के हाथों राखी बंधते ही बुध ग्रह की शुभता बढ़ाने वाली सामग्री दान करें। (हरे रंग की वस्तुएं)
 
तुला राशि : इस राशि का स्वामी भी शुक्र है अत: इस राशि के भाई भी शुक्र का दान कर अपने लिए साल भर की शुभता अर्जित कर सकते हैं। (गुलाबी, क्रीम और सफेद रंग की वस्तुएं)
 
वृश्चिक राशि : इस राशि का स्वामी मंगल है अत: इन्हें भी मंगल का शुभ दान करना चाहिए। (लाल और केसरिया रंग की वस्तुएं)
 
धनु राशि : अगर आप धनु राशि वाले भाई हैं तो आपका स्वामी गुरु है। राखी बंधने के उपरांत बृहस्पति से संबंधी वस्तुओं का दान करें।(पीले रंग की वस्तुएं)
 
मकर राशि : आपकी राशि मकर है तो आपका स्वामी शनि है। आप राखी बंधवाकर शनि की शुभता के लिए दान करें। (काले, नीले और जामुनी रंग की वस्तुएं)
 
कुंभ राशि : अगर आप कुंभ राशि वाले भाई है तो बहन से राखी बंधवाते ही आप भी शनि का ही दान करें, क्योंकि आपके राशि स्वामी भी शनि ही हैं। (नीले, आसमानी और स्लेटी रंग की वस्तुएं)
 
मीन राशि : आपकी राशि मीन है तो अपनी बहन से रक्षासूत्र बंधवाकर आप भी गुरु की शुभता बढ़ाने वाली चीजों का दान करें। (पीले और समुद्री हरे रंग की वस्तुएं)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Shri Krishna 28 July Episode 87 : शकुनि की चाल और अर्जुन का सुभद्रा पर मोहित होना