Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

जम्मू-कश्मीर के राजौरी में मुठभेड़, 2 आतंकी ढेर

हमें फॉलो करें webdunia

सुरेश एस डुग्गर

शुक्रवार, 6 अगस्त 2021 (13:55 IST)
जम्मू। अब एलओसी से सटे राजौरी जिले के थन्नामंडी में आतंकियों की मौजूदगी ने सबको चौंका दिया है। हालांकि 2 आतंकियों को अभी तक मार गिराया जा चुका है, पर थन्नामंडी इलाके के जंगलों में अभी भी एक से दो आतंकवादियों के मौजूद होने की आशंका है। सुरक्षाकर्मी गोलीबारी से बचते हुए आतंकवादियों की घेराबंदी में जुटे हुए हैं।

मारे गए आतंकवादी किस संगठन से संबंधित हैं, वे स्थानीय हैं या फिर विदेशी अभी तक इस संबंध में कोई भी आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है। हालांकि आईजीपी जम्मू ने अभी भी मुठभेड़ जारी होने की पुष्टि करते हुए कहा कि पुलिस व सेना अभियान में जुटे हुए हैं, जल्द ही सभी आतंकवादियों को मार गिराया जाएगा।

जिला राजौरी के सीमांत इलाके थन्नामंडी में छिपे इन आतंकवादियों की तलाश में जब सुरक्षबलों ने सर्च ऑपरेशन चलाया हुआ था, उसी दौरान अपने आपको घिरता हुआ देख इन आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी शुरू कर दी थी।
webdunia

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, गत रात पुलिस को थन्नामंडी सीमांत इलाके में कुछ संदिग्ध बंदूकधारियों के देखे जाने की सूचना मिली। सूचना मिलते ही पुलिस व सेना के जवान सीमांत इलाके में पहुंच गए और भारत-पाक सीमा से सटे जंगलों में आतंकवादियों की तलाश शुरू कर दी। तभी जंगल में पेड़ों की ओट में छिपे आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों को अपने नजदीक आते देख उन पर गोलीबारी शुरू कर दी।

सुरक्षाबलों ने भी तुरंत अपनी पोजीशन संभाली और आतंकवादियों की गोलीबारी का जवाब देना शुरू कर दिया। फिलहाल दोनों और से गोलीबारी का सिलसिला जारी है। आतंकवादियों की घेराबंदी करने के लिए सेना की अतिरिक्त टुकड़ी को बुलाया गया है।
ALSO READ: Ladakh Standoff: भारत-चीन की सेनाओं ने गोगरा बिंदु से पीछे हटाने की प्रक्रिया की पूरी
मुठभेड़ में मारे गए और अन्य घिरे हुए आतंकी दक्षिण कश्मीर से राजौरी पहुंचे थे। इस आतंकी समूह में दो विदेशी आतंकियों के होने की भी आशंका है। पिछले दो सप्ताह से खुफिया एजेंसियां इस आतंकी समूह पर इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस के जरिए नजर रख रही थीं।
ALSO READ: LAC : कोर कमांडर स्तर की बातचीत के बाद गोगरा पेट्रोलिंग प्वाइंट-17A से पीछे हटे भारत और चीन के सैनिक
आतंकियों के राजौरी पहुंचने की जानकारी मिलते ही सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम ने ऑपरेशन शुरू किया। इस दौरान घेरा सख्त होता देख आतंकी फायरिंग करने लगे। जवाबी कार्रवाई के साथ मुठभेड़ शुरू हो गई।

सैन्य प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने बताया कि जम्मू-कश्मीर पुलिस से सटीक खुफिया जानकारी के आधार पर गुरुवार रात थानामंडी के वन क्षेत्र में एक संयुक्त अभियान शुरू किया गया था। मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए हैं। ऑपरेशन जारी है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

राहुल गांधी के साथ जंतर मंतर पहुंचे विपक्षी दलों के सांसद, किसानों के समर्थन में प्रदर्शन