Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

चंडीगढ़ विवि वीडियो मामला: SIT ने तीनों आरोपियों से की पूछताछ, मामले की होगी निष्पक्ष जांच

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 20 सितम्बर 2022 (23:52 IST)
चंडीगढ़। पंजाब पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी) ने चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में आपत्तिनजनक वीडियो बनाने के मामले में गिरफ्तार तीनों आरोपियों से मंगलवार को पूछताछ की। आरोप है कि छात्रावास में रहने वाली एक छात्रा ने स्नानघर में अन्य छात्राओं के कई आपत्तिजनक वीडियो बनाए थे। इस मामले में 1 छात्रा और हिमाचल प्रदेश के 2 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है। बताया जाता है कि 1 आरोपी छात्रा का बॉयफ्रेंड है।
 
सूत्रों ने कहा कि पुलिस को छात्रा के फोन से एक आरोपी साथ व्हॉट्सएप पर हुई बातचीत के कुछ कथित स्क्रीनशॉट भी मिले हैं जिससे संकेत मिलता है कि उसे वीडियो बनाने के लिए ब्लैकमेल किया जा रहा था। उन्होंने कहा कि जांच के दौरान चौथे संदिग्ध का नाम भी सामने आया है। उन्होंने बताया कि चौथे संदिग्ध को पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा।
 
पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि वे मोबाइल फोन की फॉरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं, जो इसे लेकर व्हाट्सएप की गई पूरी बातचीत पर रोशनी डालेगी। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि हमने आज तीनों आरोपियों से पूछताछ की।
 
इस मुद्दे को लेकर पंजाब के मोहाली में शनिवार रात विश्वविद्यालय परिसर में विरोध प्रदर्शन हुए थे। कुछ छात्राओं ने यह भी दावा किया कि छात्रा द्वारा बनाए गए वीडियो लीक हो गए हैं। पंजाब पुलिस ने विश्वविद्यालय की छात्राओं द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच के लिए सोमवार को 3 सदस्यीय विशेष जांच दल का गठन किया था जिसमें सभी महिलाएं हैं।
 
मोहाली के खरड़ की एक अदालत ने छात्रा समेत तीनों आरोपियों को सोमवार को 7 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया था। इस बीच पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) जीपीएस भुल्लर ने मंगलवार शाम को कहा कि एसआईटी और फोरेंसिक विशेषज्ञों ने चंडीगढ़ विश्वविद्यालय की जनसुविधा का भी दौरा किया है।
 
भुल्लर ने बताया कि छात्रावास की वार्डन को भी पूछताछ के लिए तलब किया गया है। उन्होंने कहा कि 3 आरोपियों के मोबाइल फोन का डेटा पंजाब पुलिस का राज्य साइबर प्रकोष्ठ हासिल करेगा। एसआईटी वीडियो को लेकर छात्राओं के आरोपों की जांच करेगी। उन्होंने कहा कि कोई ढिलाई नहीं की जाएगी। उन्होंने आश्वासन दिया कि मामले की जांच निष्पक्ष रहेगी।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Indian Navy: नौसेना प्रमुख ने चीन को बताया कठिन चुनौती, अग्निपथ सेना भर्ती योजना पर दिया यह बयान