मोतियाबिंद ऑपरेशन के बाद 18 लोगों की आंखों की रोशनी गई

शनिवार, 29 सितम्बर 2018 (20:16 IST)
हैदराबाद। तेलंगाना सरकार के 'कांति वेलुगु कार्यक्रम' के तहत वारंगल जिले के हनमाकोंडा स्थित एक निजी अस्पताल में मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद संक्रमण होने से 18 लोगों की आंखों की दृष्टि चले जाने का मामला सामने आया है।
 
 
प्राप्त जानकारी के अनुसार गत 22 सितंबर को आंखों की जांच और मोतियाबिंद शल्य चिकित्सा कार्यक्रम के दौरान मोतियाबिंद का ऑपरेशन किया गया था। बाद में ये रोगी 27 सितंबर को आंखों में संक्रमण की शिकायत लेकर अस्पताल पहुंचे। डॉक्टरों ने दूसरी बार ऑपरेशन किया जिनमें 7 लोगों की आंखों में ज्यादा संक्रमण फैल गया जबकि कुछ लोगों में सुधार देखा गया।
 
जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. हरीश राज ने मरीजों और उनके परिजनों को आश्वासन दिया और कहा कि मरीजों की आंखें खराब नहीं हुई हैं और उन्हें हैदराबाद के सुपर स्पेशिलिटी केयर एलवी प्रसाद नेत्र संस्थान के लिए रेफर कर दिया गया। चिकित्सा अधिकारियों ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं तथा इसके अलावा निजी अस्पताल के ऑपरेशन थिएटर को सील कर दिया, जहां मोतियाबिंद का ऑपरेशन किया गया था।
 
राज्य के कार्यवाहक स्वास्थ्य मंत्री सी. लक्ष्मण रेड्डी ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि ऑपरेशन के बाद 18 मरीजों की आंखों में संक्रमण हो गया था और उन्हें एलवी प्रसाद नेत्र संस्थान में बेहतर उपचार के लिए भेजा गया है तथा नेत्र विशेषज्ञों की देखरेख में उनका उपचार किया जाएगा। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING