योगी की पुलिस को बाराबंकी की बहादुर लड़की ने दिखाया आईना

विशेष प्रतिनिधि

शुक्रवार, 2 अगस्त 2019 (09:10 IST)
लखनऊ। उन्नाव रेप कांड में भाजपा विधायक को बचाने के आरोपों से घिरी योगी सरकार की पुलिस को अब बाराबंकी की एक बहादुर लड़की ने आईना दिखा दिया है।
 
राजधानी लखनऊ से सटे बाराबंकी जिले में पुलिस इन दिनों स्कूल और कॉलेजों में जाकर जागरुकता कैंप चला रही है। इसकी कड़ी में जिले के आनंद भवन स्कूल में जागरूकता कैंप में 11 वीं क्लास के स्टूडेंट के सवालों ने पुलिस अफसरों को बोलती बंद कर दी।
 
कार्यक्रम के दौरान छात्रा मुजीबा किदवई ने जिले के एसपी आरएस गौतम से सवाल करते हुए पूछा कि अगर हम शिकायत करते है तो क्या गारंटी है कि हम सुरक्षित रहेंगे। छात्रा ने कहा कि उन्नाव में एक लड़की ने शिकायकत की तो उसके पूरे परिवार को ट्रक से उड़ा दिया गया और आज वह अस्पताल में मौत से संघर्ष कर रही है। ऐसे में अगर छेड़खानी करने वाला कोई ताकतवर आदमी हो तो हम शिकायत कैसे करेंगे।
 
इसके साथ ही छात्रा ने कहा कि अगर हम छेड़खानी का विरोध करते है तो क्या गारंटी है हमें इंसाफ मिलेगा? क्या गारंटी है कि मैं सेफ रहूंगी? क्या गारंटी है कि मेरे साथ कुछ नहीं होगा? छात्रा के इस तरह ताबड़तोड़ सवाल से कार्यक्रम में सन्नाटा छा गया और एएसपी जवाब में केवल पूरे मामले की जांच का हवाला देकर कुछ भी बोलने से बचने की कोशिश की है।
 

‘अगर कोई रसूख़ वाला-बड़ा इंसान कुछ गलत करता है तो उसके खिलाफ हमारी आवाज सुनी जाएगी क्या?’

ये बाराबंकी की छात्रा का बालिका जागरूकता रैली के दौरान उप्र सरकार से उठाया गया सवाल है। यही सवाल आज उप्र की हर महिला व बच्ची के मन में है।

BJP जवाब दो? #Unnaohttps://t.co/r2aFxQPNGb

— Priyanka Gandhi Vadra (@priyankagandhi) August 1, 2019
प्रियंका गांधी का मिला साथ – बाराबंकी की बहादुर लड़की के सवाल पूछने पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उसकी तारीफ की है। प्रियंका ने ट्वीट करते हुए लिखा कि अगर कोई रसूख वाला-बड़ा इंसान कुछ गलत करता है तो उसके खिलाफ हमारी आवाज सुनी जाएगी क्या। यह सवाल जो बाराबंकी की छात्रा ने उठाया है आज उत्तर प्रदेश की हर महिला और बच्ची के मन में है और भाजपा सरकार को इसका जवाब देना चाहिए।  

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख भाजपा नेता का विवादित बयान, तीन तलाक के कारण मुस्लिम महिलाएं वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर