CAA मामला, सरकार की तुलना किन्नरों से

सोमवार, 17 फ़रवरी 2020 (22:33 IST)
- हिमा अग्रवाल, मेरठ से (वरिष्ठ पत्रकार)
मेरठ। संगठन को संजीवनी देने की कोशिशों में जुटी कांग्रेस ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर सरकार की तुलना किन्नरों से की है। हालांकि दिल्ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का जो हश्र हुआ वह किसी से छिपा नहीं है।

दरअसल, दिल्ली विधानसभा चुनाव में बुरी तरह मुंह की खाने के बाद अब कांग्रेस यूपी में तिरंगा भारत जोड़ो रैली का आयोजन करने जा रही है। ये यात्रा चार भागों में की जाएगी। 400 किलोमीटर की इस यात्रा की शुरुआत मेरठ झोन के हापुड़ से की जाएगी क्योंकि आजादी की लड़ाई की शुरुआत भी क्रांति धरा मेरठ से ही हुई थी।

यही कारण है कि पश्चिम यूपी के हापुड़ और मेरठ को अपना केंद्र मानते हुए कांग्रेस यहां से अपनी इस यात्रा की शुरुआत कर रही है। इसके बाद लखनऊ, कानपुर और पूर्वी यूपी में यात्रा निकाली जाएगी। बता दें कि हापुड़ से यह यात्रा 19 फरवरी को निकाली जाएगी, जो मेरठ होते हुए बागपत जाएगी। इस यात्रा में कांग्रेस के काफी दिग्गज नेता शामिल होने वाले हैं।
मेरठ पहुंचे कांग्रेस सेवा दल के प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर प्रमोद पांडे ने कहा कि भाजपा जिस टुकड़े-टुकड़े गैंग का जिक्र करती है, वह वास्तव में है ही नहीं। इतना ही नहीं उन्होंने सरकार के सीएए को भी गलत बताते हुए सरकार की तुलना किन्नरों से कर डाली।

उन्होंने कहा कि सरकार का सूचना तंत्र फेल है। सरकार को नहीं पता कि उनके यहां कितने नागरिक हैं। उन्होंने मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ सहित 7 प्रदेशों का हवाला देते हुए कहा कि जिस तरह भाजपा इन प्रदेशों से चली गई उसी तरह आने वाले समय में उत्तर प्रदेश से भी भाजपा का सूपड़ा साफ होने वाला है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख दक्षिण अफ्रीकी टी20 टीम में डुप्लेसिस, रबाडा की वापसी