बुरे फंसे रजनीकांत, द्रविड़ संगठन ने लगाया झूठ बोलने का आरोप

शुक्रवार, 17 जनवरी 2020 (16:21 IST)
चेन्नई। द्रविड़ विदुथलई कषगम (डीवीके) ने शुक्रवार को सुपरस्टार रजनीकांत पर समाज सुधारक पेरियार द्वारा 1971 में की गई रैली के सिलसिले में ‘सरासर झूठ बोलने का’ आरोप लगाया।
 
अभिनेता रजनीकांत से इस संदर्भ में माफी मांगने की मांग की तथा उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई।
ALSO READ: CAA: रजनीकांत के इस ट्वीट के बाद ट्रेंड करने लगा #ShameOnYouSanghiRajini
डीवीके अध्यक्ष कोलाथुर मणि ने एक बयान में आरोप लगाया कि अभिनेता ने सरासर झूठ बोला कि 1971 में सलेम में अंधविश्वास उन्मूलन सम्मेलन के तहत भगवान राम और सीता की निर्वस्त्र तस्वीरें दिखाई गई थीं।
 
संगठन ने कहा कि अभिनेता ने 14 जनवरी को एक पत्रिका के कार्यक्रम में यह टिप्पणी की। मणि ने अभिनेता से बिना शर्त माफी मांगने की मांग की और कहा कि उनके संगठन ने उनके विरूद्ध पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Kagiso Rabada पर जश्न मनाने के कारण टेस्ट मैच खेलने पर लगा प्रतिबंध