Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सिद्धू पर भड़के गौतम गंभीर, बोले- बेटे को बॉर्डर पर भेजो फिर 'बड़े भाई' को करना याद

webdunia
शनिवार, 20 नवंबर 2021 (21:54 IST)
नई दिल्ली। पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के बयान से फिर बवाल मच गया है। सिद्धू ने इमरान को बड़ा भाई बताया था। उनके इस बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा नेता और पूर्वी दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने उन्हें घेर लिया है।

पिछली बार जब सिद्धू पाकिस्तान गए थे तो करतारपुर कॉरिडोर खोलने के मुद्दे पर वहां के सेनाध्यक्ष जनरल बाजवा से गले मिलने पर वह विवादों में आ गए थे। तभी सिद्धू का खूब विरोध हुआ था। 
 
गौतम गंभीर ने ट्वीट कर कहा कि 'अपने बेटे या बेटी को सरहद पर भेजो और फिर एक आतंकवादी राज्य के मुखिया को अपना बड़ा भाई बताओ! #Disgusting #Spineless।'
 
यह पहली बार नहीं है जब सिद्धू को इस तरह से निशाने पर लिया जा रहा हो। इससे पूर्व भी सिद्धू का 'पाकिस्तान प्रेम' कई मौकों पर नजर आया है। इमरान खान के बारे में सिद्धू के कथित बयान का वीडियो शेयर करते हुए भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट किया, ‘राहुल गांधी के प्रिय नवजोत सिंह सिद्धू पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को बड़ा भाई कहते हैं। पिछली बार उन्होंने बाजवा को गले लगाया था और पाकिस्तान की प्रशंसा की थी। अब यह किसी से छिपा नहीं है कि क्यों अमरिंदर सिंह की जगह कांग्रेस ने सिद्धू को तरजीह दी?’
क्या कहा सिद्धू ने : नवजोत सिंह सिद्धू ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को बड़ा भाई बताने के विवादास्पद बयान के साथ ही भारत और पाकिस्तान के बीच सीमाएं खोलने और दोनों देशों में पुन: व्यापार शुरू करने की वकालत की है।

पाकिस्तान में गुरुद्वारा करतारपुर साहिब के दर्शन करने गये सिद्धू ने यहां मीडिया से बातचीत में कहा कि वे पिछली बार शांति का संदेश लेकर आये थे और इस बार इससे आगे बढ़ना चाहते हैं। प्रधानमंत्री इमरान खान की ओर से उनके एक प्रतिनिधि ने सीमा चौकी पर सिद्धू का स्वागत किया था। सिद्धू ने इमरान खान को बड़ा भाई बताया और कहा कि उन्हें यहां हमेशा प्यार मिला है। मैं इमरान खान बहुत आभारी हूं। वे मेरे बड़े भाई हैं। उन्होंने मुझे बहुत प्यार दिया है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

202 दिन तक अस्पताल में भर्ती रहने के बाद Corona मरीज घर लौटी