फिर डरा रहा मौसम कश्मीरियों को, पहले ही लाइफलाइन राजमार्ग कई दिनों से बंद है

सुरेश डुग्गर

सोमवार, 4 फ़रवरी 2019 (16:23 IST)
जम्मू। बिगड़ता मौसम एक बार फिर कश्मीरियों को डरा रहा है। अगले 5 दिनों तक बर्फबारी और बारिश के पूर्वानुमान ने सिहरन इसलिए पैदा की है, क्योंकि बर्फीले सुनामी की भी चेतावनी दी जा रही है। यही नहीं, कश्मीर की लाइफलाइन कहे जाने वाले जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग के लगातार बंद रहने के कारण सब ओर हाहाकर मच रहा है। हालांकि सोमवार सुबह से राजमार्ग पर एकतरफा यातायात तो चल रहा है, पर खराब होता मौसम हिचकोले जरूर दे रहा था।
 
 
जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग एकतरफा यातायात के लिए सोमवार को आंशिक रूप से खुला है। यातायात विभाग से जुड़े सूत्रों के मुताबिक करीब 3,000 वाहन मार्ग पर अभी भी फंसे हुए हैं जिनमें से अधिकांश ट्रक हैं। वाहनों को जम्मू से श्रीनगर की ओर जाने की अनुमति दी गई है। किसी भी वाहन को विपरीत दिशा में जाने की अनुमति नहीं दी गई।
 
सूत्रों ने बताया कि जम्मू से श्रीनगर जाने वाले करीब 3,000 वाहन रविवार शाम को जवाहर सुंरग पार नहीं कर पाए। इनमें से अधिकांश ट्रक हैं। सूत्रों ने बताया कि बनिहाल सेक्टर में नौगाम से और कश्मीर घाटी से लोअर मुंडा में बेहद फिसलनभरी सड़कों के कारण रविवार शाम को यातायात रोक दिया गया था।
 
मौसम विभाग ने जम्मू-कश्मीर में सोमवार शाम से बारिश और ताजा बर्फबारी के आसार जताए हैं और कहा है कि अगले 4 दिनों तक मौसम का यही हाल बना रहेगा। मौसम विभाग के अनुसार राज्य में सोमवार शाम से व्यापक रूप से हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश और बर्फबारी होगी।
 
विभाग ने कहा कि इसके अलावा बुधवार और गुरुवार को छिटपुट से लेकर भारी बारिश और भारी बर्फबारी के आसार हैं। श्रीनगर में रविवार को न्यूनतम तापमान 2 महीने के बाद हिमांक बिंदु से ऊपर रहा जिस वजह से नागरिकों को इस कड़कड़ाती ठंड से थोड़ी राहत मिली।
 
श्रीनगर में सोमवार को न्यूनतम तापमान 0 से 2.4 डिग्री सेल्सियस कम रहा जबकि पहलगाम और गुलमर्ग में तापमान 0 से 8.6 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। लेह, कारगिल और द्रास में न्यूनतम तापमान क्रमश: 0 से 13.2 डिग्री, 16.6 डिग्री और 22.7 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया, वहीं जम्मू में तापमान 8.2 डिग्री सेल्सियस, कटरा में 7.8 डिग्री सेल्सियस, बनिहाल में 0.7 डिग्री सेल्सियस और भद्रवाह में 0 से 2.0 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मैक्सिको में तेल चोरी हादसा : मृतक संख्या 125 हुई, 22 घायलों में कई गंभीर