माघी पूर्णिमा पर काशी में आस्था का सैलाब, लाखों श्रद्धालुओं ने किया गंगा स्नान

रविवार, 9 फ़रवरी 2020 (11:34 IST)
वाराणसी। धार्मिक नगरी वाराणसी में रविवार को माघी पूर्णिमा के पावन पर्व पर गंगा तट पर लाखों की तादाद में देशी-विदेशी श्रद्धालुओं ने आस्था की डुबकी लगाई। गंगा स्नान एवं पूजा के लिए दशाश्वमेध घाट, शिवाला घाट, असि घाट, संत रविदास घाट समेत कई घाटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी।
 
पवित्र स्नान के बाद श्रद्धालु दान-पुण्य कर मंदिरों की ओर रुख कर रहे हैं। श्री काशी विश्वाथ मंदिर, प्रचीन श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर समेत अनेक मंदिरों में लोगों की भारी भीड़ है।
 
मान्यता है कि माघ माह के अंतिम अंतिम पूर्णिमा को वाराणसी में गंगा स्नान करने से भक्तों की तमाम मनोकामनाएं पूरी होती हैं। यही वजह है कि बड़ी संख्या में दूर-दराज के लोग गंगा स्नान कर पुण्य कमाने यहां आते हैं।
 
माघी पूर्णिमा के मद्देनजर सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए हैं। शहरी इलाके में एहतियातन यातायात व्यवस्था में व्यापक बदलाव किए गए हैं। घाटों की ओर जाने वाले रास्तों पर वाहनों की आवाजाही पर आंशिक प्रतिबंध लगाये गए हैं। गंगा नदी में स्नान स्थलों पर रस्सी से घेरा बनाया गया ताकि लोग सुरक्षित तरीके से स्नान कर सकें।
 
उत्तर प्रदेश जल पुलिस एवं राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के जवानों को तैनात किया गया। संभावित भीड़भाड़ वाले इलाकों में वाहनों के बिना वजह ठहराव पर नजर रखी जा रही है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख तृणमूल विधायक की हत्या, CID ने भाजपा सांसद से की पूछताछ