Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

गाजियाबाद में बड़ा हादसा : करंट की चपेट में आने से 3 बच्ची समेत 5 की मौत, CCTV में कैद हुई घटना

webdunia

हिमा अग्रवाल

बुधवार, 1 सितम्बर 2021 (22:54 IST)
गाजियाबाद में पावर कॉर्पोरेशन की लापरवाही के चलते 5 लोगों की मौत हो गई है, जबकि एक की हालत गंभीर बनी हुई है। राकेश मार्केट मार्ग पर आज एक परचून की दुकान के टिन शेड में करंट उतरने से मां-बेटी समेत 5 लोगों की मौत हुई है। यह दर्दनाक हादसा वहां पास में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। सिहानी गेट के राकेश मार्ग पर हुए हादसे के बाद वहां चीख-पुकार मच गई, जबकि हादसे के बाद दुकान संचालक दुकान बंद करके भाग खड़ा हुआ।
गौतमबुद्धनगर के दादरी का रहने वाला सुशील कुमार राकेश मार्ग पर गली नंबर तीन के सामने परचून की दुकान चलाता है। बुधवार की सुबह पास में ही रहने वाली 11 वर्षीय सिमरन पड़ोस की 4 वर्षीय बच्ची को गोद में लेकर दुकान से सामान खरीदने गई थी, घटना के समय हल्की-हल्की बारिश हो रही थी। सिमरन दुकान के बाहर टिन शेड के पाइप को पकड़कर सहारा लेती है, पाइप में टिन शेड से करंट उतर रहा था, जिसकी चपेट में आकर वह चिपक जाती है।
सीसीटीवी में साफतौर पर दिखाई दे रहा है कि एक के बाद एक लोग किस तरह करंट की चपेट में आते हैं। हादसे से सिमरन और सुरभि को बचाने के लिए पास के घर से 24 साल का लक्ष्मी नारायण दौड़ता हौर वह भी करंट की चपेट में आ जाता है।
webdunia

इतना ही नहीं 4 वर्षीय सुरभि की मां सीता अपनी बच्ची को बचाने दौड़ती है और वह भी हादसे का शिकार बन जाती है। घटना के समय सड़क पर जलभराव हो रहा था, पानी में करंट उतरने से 10 साल की खुशी भी करंट की चपेट में आ जाती है।

पांच लोगों की मौत से स्थानीय लोग सड़क पर आ जाते हैं और बिजली विभाग व घटना के दोषियों पर कार्रवाई की मांग करने लगते हैं। आक्रोशित लोगों ने मुआवजे की मांग को लेकर जीटी रोड पर जाम भी लगा दिया था। पीड़ित परिवार की मांग थी की उनको तुरंत मृतकों के शव दिए जाएं, उनका पोस्टमार्टम नहीं हो। पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों ने मुआवजा दिलवाने का आश्वासन देकर सड़क से जाम लगाने वाले लोगों को हटाया।
इस दर्दनाक हादसे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। जिलाधिकारी गाजियाबाद ने पीड़ित परिवारों को 2-2 लाख रुपए दिए जाने की जानकारी दी है।
ALSO READ: यूपी के सीतापुर में शादी में दर्दनाक हादसा, करंट लगने से 4 की मौत
प्रश्न उठता है कि बिजली विभाग की घोर लापरवाही के चलते पांच लोग काल का ग्रास बन गए हैं, तो बिजली अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई होगी। जिस दुकानदार की दुकान के टिन शेड से बिजली की लाइन गुजर रही थी, तो उसने उस पर संज्ञान क्यों नहीं लिया। उस पर भी एक्शन होगा। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अनंतनाग में आतंकियों ने पुलिस पोस्ट को बनाया निशाना, ग्रेनेड से हमला