पश्चिम महाराष्ट्र में बाढ़ से हालात बिगड़े, सांगली जिला जेल में घुसा पानी

गुरुवार, 8 अगस्त 2019 (12:41 IST)
सांगली। भारी बारिश और बाढ़ की वजह से पश्चिमी महाराष्ट्र में हालात बिगड़ गए हैं। अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि सांगली के जिला जेल में भी पानी घुस गया जिसकी वजह से प्रशासन ने कैदियों को ऊपरी मंजिल पर स्थानांतरित किया है। पिछले कुछ दिनों से सांगली में हो रही बारिश की वजह से बुधवार को जिला जेल परिसर पानी से घिर गया, जहां करीब 370 कैदी हैं।
 
अतिरिक्त महानिदेशक (कारागार) सुनील रामानंद ने कहा कि जेल में भूतल की बैरकों में घुटनों तक पानी भरा है। हमनें सभी कैदियों को पहली मंजिल पर बनी बैरकों में स्थानांतरित किया है। अभी तक कैदियों को जेल से बाहर स्थानांतरित करने की जरूरत नहीं पड़ी।
 
पुणे के आयुक्त दीपक म्हैसकर ने बताया कि बुधवार तक पुणे क्षेत्र (पुणे, सतारा, सोलापुर, सांगली और कोल्हापुर जिले) में 1.32 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। एक अन्य अधिकारी ने बुधवार को बताया कि बारिश और बाढ़ के कारण पश्चिमी महाराष्ट्र में अब तक 16 लोगों की मौत हुई है। सांगली और कोल्हापुर में स्थिति अभी भी गंभीर बनी हुई है।
 
म्हैसकर ने बताया कि करीब 53 हजार लोगों को सांगली, 51 हजार लोगों को कोल्हापुर और 13 हजार लोगों को पुणे से बचाकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। बाढ़ के कारण सांगली-कोल्हापुर और कोल्हापुर-बेलगाम (कर्नाटक) के बीच सड़क मार्ग प्रभावित हुआ है। लोगों को मुंबई-बेंगलुरु (राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-4) से बचने की सलाह दी गई है।

नौका पलटने से 9 की मौत : महाराष्ट्र के बाढ़ प्रभावित सांगली जिले में बचाव कार्य में जुटी एक नौका के गुरुवार को एक जलाशय में पलट जाने से नौ लोगों की मौत हो गई और चार अन्य लोग घायल हो गए।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख अनुच्छेद 370 में कांग्रेस ने भी लगाई थीं कई सेंध