सिद्धू पर अमरिंदर मंत्रिमंडल में बवाल, साथी मंत्री ने मांगा इस्तीफा

शनिवार, 1 दिसंबर 2018 (19:38 IST)
चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के खिलाफ टिप्पणी को लेकर राज्य के एक वरिष्ठ मंत्री ने शनिवार को नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे की मांग की। इस बीच क्रिकेटर से नेता बने सिद्धू अपने उस बयान से भी पलट गए कि करतारपुर गलियारे के आधारशिला कार्यक्रम के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उन्हें पाकिस्तान भेजा था।
 
चुनाव प्रचार कार्यक्रम के लिए हैदराबाद गए सिद्धू ने शुक्रवार को कहा था कि उन्होंने करतारपुर गलियारे के आधारशिला कार्यक्रम में इसलिए हिस्सा लिया क्योंकि राहुल गांधी ने उन्हें वहां जाने के लिए कहा था।
 
अमरिंदर सिंह की वस्तुत: अनदेखी करते हुए सिद्धू ने कहा था कि वह राहुल गांधी को अपना कैप्टन मानते हैं। अमरिंदर सिंह सेना में कैप्टन रह चुके हैं।
 
पंजाब के मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा ने कहा, 'अगर वह कैप्टन अमरिंदर सिंह को अपना कैप्टन नहीं मानते तो उन्हें नैतिक आधार पर मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे देना चाहिए और राहुल गांधी उन्हें जो भी काम कहें, वही करना चाहिए।' 
 
सिद्धू की करतारपुर गुरुद्वारा की यात्रा से अमरिंदर सिंह खुश नहीं थे। इससे पहले सिंह ने कहा था कि अमृतसर में ग्रेनेड हमले के बाद उन्होंने राज्य के स्थानीय निकाय मंत्री को रोकने की कोशिश की थी। ग्रेनेड हमले में तीन लोगों की मौत हो गई थी।
 
इस बीच सिद्धू ने ट्वीट किया, 'राहुल गांधी ने मुझे जाने को नहीं कहा, मैं पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के निजी बुलावे पर वहां गया था।' 
 
राज्य के ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री बाजवा ने कहा कि अमरिंदर सिंह पंजाब में हमारे कैप्टन हैं, वह हमारे नेता हैं। मंत्री ने मांग की कि सिद्धू को मुख्यमंत्री से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उन्हें कैप्टन साहब को पंजाब में अपने नेता के तौर पर स्वीकार करना होगा।
 
बाजवा ने कहा, 'छोटे भाई को मेरी सलाह है कि वह कम बोलें और काम पर ध्यान लगाएं। आपको सुसंगत रहने की जरूरत है और इसे आपको अपनी आदत बनानी चाहिए।'
 
बाजवा ने कहा कि राहुल गांधी हर किसी के कैप्टन हैं, लेकिन वह मुख्यमंत्री के बारे में सिद्धू की टिप्पणी से इत्तेफाक नहीं रखते।
 
हैदराबाद में संवाददाताओं ने जब सिद्धू से उनकी पाकिस्तान यात्रा को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री से अनुमति नहीं मिलने के बारे में सवाल किया तो उन्होंने कहा था, 'राहुल गांधी मेरे कैप्टन हैं। उन्होंने ही मुझे पाकिस्तान भेजा। राहुल गांधी कैप्टन (अमरिंदर सिंह) के भी कैप्टन हैं। बहरहाल, सिद्धू ने सिंह को पिता समान बताया था। इसे पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पर एक तंज की तौर पर देखा जा रहा था। (भाषा) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING