टीडीबी ने महिलाओं के लिए खोले सबरीमाला के द्वार

बुधवार, 3 अक्टूबर 2018 (22:54 IST)
तिरुवनंतपुरम। केरल में मंदिरों की प्रशासनिक निकाय त्रावणकोर देवस्वोम बोर्ड (टीडीबी) ने सबरीमाला के भगवान अय्यापा मंदिर में हर उम्र की महिलाओं के प्रवेश को लेकर उच्चतम न्यायालय के फैसले को लागू करने का बुधवार को फैसला लिया।
 
टीडीबी अध्यक्ष ए पदमकुमार ने बताया कि बोर्ड सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल नहीं करेगा। बोर्ड आने वाले त्योहारों के दिनों में महिला श्रद्धालुओं के लिए निलक्कल, पम्पा और सबरीमाला में जरूरी सुविधाओं विशेष रूप से विश्राम गृह, शौचालय और स्नान घर की ‌व्यवस्था करेगा। उन्होंने बताया कि टीडीबी के सदस्यों और शीर्ष अधिकारियों की बैठक में इस संबंध में निर्णय लिया गया।
 
उल्लेखनीय है कि विभिन्न हिंदू संगठनों के निरंतर विरोध प्रदर्शनों को देखते हुए मीडिया रिपोर्टों में कयास लगाये जा रह थे कि बोर्ड उच्चतम न्यायालय के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल कर सकता है, लेकिन टीबीए अध्यक्ष  पदमकुमार ने पुनर्विचार याचिका दाखिल करने से इंकार कर दिया है।
 
केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन पहले ही स्पष्ट कर चुके है कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करने की सरकार की कोई योजना नहीं है। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING