Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia

बीएसई में बिकवाली के दबाव से सेंसेक्स 632 अंक लुढ़का, निफ्टी भी 18,000 से नीचे

हमें फॉलो करें बीएसई में बिकवाली के दबाव से सेंसेक्स 632 अंक लुढ़का, निफ्टी भी 18,000 से नीचे
, मंगलवार, 10 जनवरी 2023 (16:50 IST)
मुंबई। घरेलू शेयर बाजारों में मंगलवार को गिरावट आई और बीएसई सेंसेक्स 632 अंक लुढ़क गया। विदेशी संस्थागत निवेशकों की शेयर बाजार से निकासी जारी रहने और यूरोपीय बाजारों में कमजोर रुख के साथ रिलायंस इंडस्ट्रीज और बैंक शेयरों में बिकवाली से बाजार नुकसान में रहा। यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर कारोबार में गिरावट का रुख था। अमेरिकी बाजारों में सोमवार को मिला-जुला रुख था।
 
30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 631.83 अंक यानी 1.04 प्रतिशत लुढ़ककर 60,115.48 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान एक समय यह 808.93 अंक तक लुढ़क गया था। 50 शेयरों पर आधारित नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 187.05 अंक टूटकर 17,914.15 अंक पर बंद हुआ।
 
सेंसेक्स के शेयरों में भारती एयरटेल, भारतीय स्टेट बैंक, एचडीएफसी बैंक, अल्ट्राटेक सीमेंट, बजाज फाइनेंस, एचडीएफसी, एनटीपीसी, आईटीसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, टेक महिंद्रा, आईसीआईसीआई बैंक और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज में प्रमुख रूप से गिरावट रही। दूसरी तरफ टाटा मोटर्स, पॉवरग्रिड, टाटा स्टील, हिंदुस्तान यूनीलिवर, इंडसइंड बैंक और महिंद्रा एंड महिंद्रा बैंक लाभ में रहे।
 
देश की सबसे बड़ी सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी टीसीएस का शेयर 1.05 प्रतिशत नीचे आया। हालांकि कंपनी का लाभ दिसंबर तिमाही में 11 प्रतिशत बढ़कर 10,846 करोड़ रुपए रहा। लेकिन ऐसा कहा जा रहा है कि यह बाजार की उम्मीद के अनुरूप नहीं है।
 
एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और जापान का निक्की लाभ में जबकि चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर कारोबार में गिरावट का रुख था। अमेरिकी बाजारों में सोमवार को मिला-जुला रुख था।
 
इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.46 प्रतिशत की गिरावट के साथ 79.28 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने सोमवार को 203.13 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर बेचे।(भाषा)
 
Edited by: Ravindra Gupta


Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

चोरी के मामले में अदालत में पेश हुए केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री