Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia

आज के शुभ मुहूर्त

(चैत्र अमावस्या)
  • तिथि- चैत्र कृष्ण अमावस्या
  • शुभ समय-10:46 से 1:55, 3:30 5:05 तक
  • व्रत/मुहूर्त- स्ना.दा.श्रा. अमावस्या, पंचक
  • दिवस विशेष-विश्व डाउन सिंड्रोम दि., विश्व कविता दि., विश्व सैन्य दि., विश्व वानिकी दि.
  • राहुकाल- दोप. 3:00 से 4:30 बजे तक
webdunia
Advertiesment

जयंती विशेष : सिखों के 7वें गुरु, गुरु हर राय जी की Jayanti

हमें फॉलो करें webdunia
सिख धर्म के 7वे गुरु, गुरु हर राय जी (Guru Har Rai) की आज जयंती मनाई जा रही है। आइए जानते हैं उनके बारे में- 
 
1. गुरु हर राय जी का जन्म 16 जनवरी, 1630 को हुआ था। वे एक महान योद्धा भी थे। 
 
2. गुरु हर राय सिखों के 7वें गुरु थे।
 
3. गुरु हर राय जी का जन्म पंजाब में हुआ था।
 
4. गुरु हर राय जी, बाबा गुरु दित्ता एवं माता निहाल कौर के पुत्र थे। 
 
5. सिखों के छठवें गुरु हरगोविंद सिंह जी को जब इस बात का आभास हो गया कि अब उनका अंतिम समय निकट आने वाला है तो उन्होंने अपने पौत्र को गद्दी सौंप दी यानी अपने पोते हर राय जी को 'सप्तम्‌ नानक' के रूप में घोषित किया था। उस समय उनकी उम्र मात्र 14 वर्ष की थी।
 
6. गुरु हर राय जी का विवाह किशन कौर जी के साथ हुआ था।
 
7. गुरु हर राय जी के दो पुत्र थे। राम राय और हरकिशन सिंह जी (गुरु) थे।
 
8. गुरु हर राय सिंह जी शांत स्वभाव के थे, उनका व्यक्तित्व लोगों को प्रभावित करता था। 
 
9. एक बार मुगल शासक औरंगजेब के भाई दारा शिकोह किसी अनजान बीमारी से ग्रस्त हुआ, तब गुरु हर राय जी ने उनकी मदद की और उसे मौत के मुंह से बचा लिया था। 
 
10. गुरु हर राय जी की मृत्यु सन् 1661 ई. में कीरतपुर साहिब में कार्तिक वदी नवमी को हुई थी।
 
11. वह आध्यात्मिक व राष्ट्रवादी महापुरुष होने के साथ एक कुशल योद्धा भी थे।

rk.

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

वसंत पंचमी : विद्यारंभ संस्कार क्या है? कब किया जाता है, क्यों है महत्व, जानिए खास बातें