Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मैच प्रिव्यू: चौथे टेस्ट के लिए दोनों टीमें सुलझा रही हैं टीम कॉम्बिनेशन की पहेली

हमें फॉलो करें webdunia
गुरुवार, 2 सितम्बर 2021 (00:00 IST)
लंदन:सीरीज में 1-1 की बराबरी हो जाने के बाद भारत और इंग्लैंड की टीमें गुरूवार से यहां ओवल मैदान में शुरू होने वाले चौथे टेस्ट मैच में निर्णायक बढ़त बनाने के इरादे से उतरेंगी।

भारत ने लॉर्ड्स मैदान में 151 रन से जीत हासिल कर सीरीज में बढ़त बनायी थी लेकिन इंग्लैंड ने पलटवार करते हुए लीड्स में तीसरा टेस्ट साढ़े तीन दिन के अंदर पारी और 76 रन से जीतकर पांच मैचों की सीरीज को 1-1 की बराबरी पर ला खड़ा किया। अब ओवल मैदान में गुरूवार से चौथा टेस्ट खेला जाना है जिसमें जीतने वाली टीम को सीरीज में 2-1 की निर्णायक बढ़त मिल जायेगी।

तीन इंडिया ने लीड्स में तीसरा टेस्ट पहले दिन ही गंवा दिया था जब टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम पहले दिन 41 ओवर के अंदर मात्र 78 रन पर ढेर हो गयी थी। इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी में 432 रन बनाकर 354 रन की विशाल बढ़त हासिल की और भारत को दूसरी पारी में 278 रन पर समेटकर टेस्ट पारी और 76 रन के बड़े अंतर से जीत लिया।

लीड्स में तीसरे टेस्ट में भारत को उसकी बल्लेबाजी की कमजोरी ले डूबी। मैच में तीसरे दिन भारत ने अच्छा संघर्ष किया लेकिन चौथे दिन की सुबह भारतीय टीम ने अपने आठ विकेट मात्र 63 रन जोड़कर गंवा दिए। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने मैच के बाद शीर्ष क्रम की प्रतिबद्धता पर सवाल उठाते हुए कहा था की टॉप आर्डर को रन बनाने होंगे और हर बार निचला क्रम उसे नहीं बचा सकता। लीड्स में चेतेश्वर पुजारा ने 91 रन की पारी खेली थी जबकि विराट ने अर्धशतक बनाया था लेकिन दोनों बल्लेबाज चौथे दिन बिना किसी संघर्ष के आउट होकर पवेलियन चल दिए जिसके बाद भारतीय बल्लेबाजी में संघर्ष करने के लिए कुछ नहीं बचा।
webdunia

उपकप्तान अजिंक्या रहाणे की खराब फॉर्म लगातार उनका पीछा कर रही है जबकि विकेटकीपर ऋषभ पंत यह अंदाजा नहीं लगा पा रहे हैं कि उन्हें विकेट पर टिकना है या अपने आक्रामक अंदाज में शॉट्स खेलने हैं। पंत की फिलहाल स्थिति यह है कि वह विकेट पर पहुंचते हैं लेकिन जल्दी स्लिप में कैच थामकर पवेलियन लौट जाते हैं।

लेकिन पंत से ज्यादा जिम्मेदारी शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों की बनती है जो ऑफ स्टंप से बाहर पड़ी गेंद पर छेड़खानी कर अपना विकेट विकेटकीपर या स्लिप क्षेत्र में गंवा बैठते हैं। भारत को अपने बल्लेबाजी क्रम में कुछ परिवर्तन करने के बारे में सोचना होगा।ओपनिंग में रोहित शर्मा के साथ लोकेश राहुल की जगह पृथ्वी शॉ या मयंक अग्रवाल को उतारे जाने के बारे में सोचा जा सकता है। मध्यक्रम में रहाणे की जगह हनुमा विहारी को लाने पर विचार किया जा सकता है जबकि आलराउंडर रवींद्र जडेजा की जगह अब तक तीनों टेस्टों से बाहर रहे ऑफ स्पिनर रविचन्द्रन अश्विन को आजमाया जा सकता है।

इशांत शर्मा का ड्रॉप होना तय, अश्विन या शार्दूल पर निगाह

ओवल की पिच इस सीरीज में सबसे धीमी मानी जाती है और स्पिनरों को उससे मदद मिल सकती है। ऐसी स्थिति में अश्विन को आजमाने में कोई फर्क नहीं पड़ता। यह देखना होगा कि कप्तान विराट चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरना पसंद करेंगे या फिर वह तीन तेज गेंदबाजों या दो स्पिनरों के साथ उतरना चाहेंगे। लीड्स में खेले चार तेज गेंदबाजों में यदि कोई बाहर होता है तो वह इशांत शर्मा रहेंगे जिन्हे तीसरे टेस्ट में संघर्ष करना पड़ा था और उन्हें इंग्लैंड की पारी में 22 ओवर में 92 रन देकर कोई विकेट नहीं मिला था। इशांत की जगह शार्दुल ठाकुर या उमेश यादव को आजमाया जा सकता है।

ओवल मैदान पर बल्लेबाजों की मददगार माने जाने वाली पिच पर भारतीय बल्लेबाज लीड्स जैसी गलतियां दोहराते हैं या नहीं , यह देखना दिलचस्प होगा। गलतियां न दोहराने की सूरत में ही भारत चौथे मुकाबले में वापसी कर सकता है।
webdunia

जोस बटलर की जगह मोईन अली इंग्लैंड के उप कप्तान बने

आलराउंडर मोईन अली को गुरुवार से भारत के खिलाफ ओवल में शुरू हो रहे चौथे टेस्ट के लिए इंग्लैंड का उप कप्तान बनाया गया है।

जोस बटलर को उनके दूसरे बच्चे के जन्म को देखते हुए पितृत्व अवकाश दिया गया है जिसके बाद मोईन को उप कप्तान बनाया गया।

चौंतीस साल के मोईन ने अब तक इंग्लैंड की ओर से 63 खेले हैं जिसमें उन्होंने पांच शतक की मदद से 2879 रन बनाए। उन्होंने 193 विकेट भी चटकाए हैं।

कंधे की चोट से उबरने के बाद मार्क वुड चयन के लिए उपलब्ध होंगे जबकि चोट के कारण पहले तीन मैचों से बाहर रहे क्रिस वोक्स की टीम में वापसी हुई है।

वहीं इंग्लैंड के लिए भी टीम नियोजन पर हो रही है माथापच्ची

कप्तान जो रूट वैसे तो क्रिस वोक्स और मार्क वुड दोनों को खिलाना चाहते होंगे। लेकिन अभी के हालात देखकर वह सिर्फ क्रिस वोक्स को ही टीम में शामिल करना चाहेंगे। ऐसे में इंग्लैंड के पास 3 ऑलराउंडर हो जाएंगे। ओवरटन ने गेंद और बल्ले से अच्छा प्रदर्शन किया था तो उन्हें हटाकर मार्क वुड को टीम में नहीं लाया जा सकता।

जो रूट सैम बिलिंग्स की जगह जॉनी बेरेस्टो से ही विकेटकीपिंग कराने में ही दिलचस्पी दिखा सकते हैं ताकि टीम को एक अतिरिक्त खिलाड़ी मिल सके।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

ऑस्ट्रेलिया के बाद न्यूजीलैंड को भी न्यूनतम टी-20 स्कोर पर समेटा बांग्लादेश ने, जीता मैच