राफेल नडाल 2020 यूएस ओपन के आयोजन को लेकर आशंकित

गुरुवार, 4 जून 2020 (21:45 IST)
न्यूयार्क। कोरोना वायरस महामारी के कारण अगर फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट स्थगित नहीं होता तो यह टूर्नामेंट दूसरे सप्ताह में चल रहा होता और राफेल नडाल अपने 20वें ग्रैंडस्लैम खिताब की कवायद में लगे होते लेकिन इसके बजाय वह स्पेन में अपने घर में हल्का अभ्यास कर रहे हैं और हर किसी की तरह वह भी सुनिश्चित नहीं हैं कि अगला ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट यूएस ओपन हो पाएगा या नहीं। नडाल ने गुरुवार को वीडियो कान्फ्रेंस कॉल में यूएस ओपन के आयोजन के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में कहा, ‘अगर आप मुझसे आज इसका उत्तर जानना चाहते हों तो मेरा जवाब न होगा।’ 
 
उन्होंने कहा, ‘अगले दो महीने में क्या होगा, मैं नहीं जानता। तब मेरा जवाब हां भी हो सकता है लेकिन हमें तब तक इंतजार करना होगा जब तक कि हमारे पास वायरस और न्यूयार्क की दो महीने बाद की स्थिति को लेकर अधिक स्पष्ट जानकारी नहीं होती है। नडाल ने कहा, ‘निश्चित तौर पर न्यूयार्क उन स्थानों में शामिल है जहां वायरस का अधिक प्रकोप रहा है। इसलिए देखते हैं।’ 
 
यूएस ओपन के बारे में एक सप्ताह के अंदर फैसला लिये जाने की संभावना है। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार इस टूर्नामेंट का मुख्य ड्रॉ 31 अगस्त से न्यूयार्क में शुरू होगा। नडाल ने कहा कि यूएस ओपन या किसी भी अन्य टेनिस टूर्नामेंट के आयोजन के लिए दो चीजें महत्वपूर्ण हैं। पहला कोरोना वायरस से सुरक्षा का आश्वासन और दूसरा हर किसी का अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यात्रा करने में सक्षम होना।
 
उन्होंने कहा, ‘जब तक स्थिति पूरी तरह सुरक्षित नहीं होती तब तक वापसी नहीं की जा सकती है। सभी खिलाड़ियों के लिये सुरक्षित परिस्थितियों में यात्रा करना सुनिश्चित होना भी जरूरी है। अन्य खेलों की तरह टेनिस टूर्नामेंट भी कोविड-19 महामारी के कारण मार्च से बंद पड़े हैं। एटीपी और डब्ल्यूटीए टूर जुलाई तक निलंबित कर दिये गये हैं। फ्रेंच ओपन को मई से सितंबर तक खिसका दिया गया है जबकि विंबलडन 75 वर्षों में पहली बार स्थगित कर दिया गया। (भाषा)
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख बुमराह ने कहा, मलिंगा यॉर्कर फेंकने वाले दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज