भारत का दबदबा लौटाने इंडिया ओपन में उतरेंगी साइना और सिंधू

रविवार, 24 मार्च 2019 (23:34 IST)
नई दिल्ली। भारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधू और साइना नेहवाल 26 मार्च से इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम के केडी जाधव इंडोर हाल में होने वाले 350,000 डॉलर के योनेक्स सनराइड इंडिया ओपन के नौवें संस्करण में भारतीय दबदबे को लौटाने के लक्ष्य के साथ उतरेंगी।
 
सिंधू, साइना और शीर्ष पुरुष भारतीय खिलाड़ी किदाम्बी श्रीकांत को इंडिया ओपन के चलते हाल में हांगकांग में हुई एशियाई मिश्रित टीम बैडमिंटन चैंपियनशिप से विश्राम दिया गया था। भारत इस चैंपियनशिप में पिछले वर्ष क्वार्टरफाइनल में पहुंचा था, लेकिन इस बार वह ग्रुप चरण में ही बाहर हो गया था।
 
सिंधू और साइना को इंडियन ओपन में क्रमशः दूसरी और पांचवीं वरीयता दी गई है। साइना इस टूर्नामेंट में 2010 और 2015 में खिताब जीत चुकी हैं जबकि सिंधू ने 2017 में खिताब जीता था। श्रीकांत ने 2015 में पुरुष एकल खिताब जीता था। भारत को 2010 में वी दीजू और ज्वाला गुट्टा ने मिश्रित युगल का खिताब दिलाया था। पिछले संस्करण में भारत पांचों वर्गों में एक भी खिताब नहीं जीत पाया था।
 
सिंधू और साइना को अलग-अलग हाफ में रखा गया है। सिंधू का पहले दौर में हमवतन मुग्धा अग्रे से मुकाबला होगा जबकि साइना के सामने चीन की केई यानयान की चुनौती होगी। साइना का सेमीफाइनल में ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप की नई विजेता और इस टूर्नामेंट में टॉप सीड चीन की चेन यूफेई से मुकाबला हो सकता है।
 
दूसरी बार खिताब जीतने की तलाश में लगे तीसरी सीड श्रीकांत का पहला मुकाबला हांगकांग के वोंग विंग की विन्सेंट से होगा। पुरुष एकल में अच्छी खासी संख्या में भारतीय खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं।
 
इस साल 6 खिलाड़ी इस वर्ग में हैं। इनमें 2015 के चैम्पियन श्रीकांत की तीसरी, बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स सेमीफाइनलिस्ट समीर वर्मा को पांचवीं वरीयता मिली है। साथ ही बी साई प्रणीत, एचएस प्रणय, परूपल्ली कश्यप और शुभंकर डे जैसे खिलाड़ी भारत की ओर से चुनौती पेश करेंगे।
 
सात्विकसैराज  रेंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की तीसरी सीड पुरुष युगल जोड़ी 2019 में अपने सफर की शुरुआत कई सारी अपेक्षाओं के साथ करेगी। पूर्व नेशनल चैम्पियन मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी इस वर्ग में एकमात्र सीडेड जोड़ीदार हैं। इन्हें छठी सीड मिली है।
 
2018 वर्ल्ड चैम्पियनशिप क्वार्टर फाइनलिस्ट रेंकीरेड्डी और अश्विनी पोनप्पा को यहां मिश्रित युगल में आठवीं सीड मिली है। प्रणव जेरी चोपड़ा और एन सिक्की रेड्डी को इस साल कोई सीड नहीं मिली और ये पहले राउंड में हाफिज फैजल और ग्लोरिया विदजाजा से भिड़ेंगे। कॉमनवेलथ गेम्स ब्रांज मेडलिस्ट रेड्डी और पोनप्पा पहले राउंड में छठी सीड ली वेनमेई और झेंग यू को हराने का प्रयास करेंगे।
 
पुरुष वर्ग में मौजूदा इंडिया ओपन एकल चैम्पियन शी यूकी को टॉप सीडिंग मिली है। सेमीफाइनल में विक्टर एक्सेलसन के हाथों हारकर ऑल इंग्लैंड खिताब बचाने से नाकाम रहे यूकी इंडिया ओपन में अपना पहला मैच अपने ही देश के हुआंग युजीयांग के खिलाफ खेलेंगे और क्वार्टर फाइनल में उनका सामना अपने ही देश के झोउ जेकी से हो सकता है।
 
सीरी फोर्ट स्पोटर्स कॉम्प्लेक्स में आठ सफल साल बिताने के बाद इस साल इस टूर्नामेंट को न सिर्फ नया पता मिला है बल्कि इस साल यह अब तक के सबसे बड़े चीनी दल का स्वागत करेगा। चीनी खिलाड़ियों ने सबसे चर्चित नाम वर्ल्ड नम्बर-2 यूफेई का है, जिन्होंने इस महीने ऑल इंग्लैड ओपन के फाइनल में वर्ल्ड नम्बर-1 तेई जू यिंग को हराकर महिला एकल खिताब अपने नाम किया था।
 
भारत के इस प्रीमियर वर्ल्ड टूर सुपर 500 इवेंट के महिला एकल ड्रॉ में छ: चीनी खिलाड़ी शामिल हैं। वर्ल्ड नम्बर-7 ही बिंगजियाओ और वर्ल्ड  नम्बर-14 हान युई को क्रमशः तीसरी और सातवीं सीड मिली है। पूर्व चैम्पियन और 2012 ओलम्पिक गोल्ड मेडल विनर ली जुईरेई की इस टूर्नामेंट में वापसी हुई है जबकि चेन जियाओजिन और चाए यानयान ड्रा में शामिल अन्य चीनी खिलाड़ी हैं। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख IPL 2019 : मुंबई इंडियंस और दिल्ली कैपिटल्स के बीच मैच का ताजा हाल