टोक्यो ओलंपिक के लिए फिटनेस और कमजोर पक्षों पर ध्यान दे भारतीय टीम : शोर्ड मारिन

शनिवार, 15 फ़रवरी 2020 (18:02 IST)
नई दिल्ली। भारतीय महिला हॉकी टीम के मुख्य कोच शोर्ड मारिन ने टोक्यो ओलंपिक के लिए ‘फिटनेस’ को अहम बताते हुए कहा कि आगामी अभ्यास शिविर में इस पर जोर देने के साथ टीम के कमजोर पक्षों को मजबूत किया जाएगा। 
 
हॉकी इंडिया ने शनिवार को 25 सदस्यीय संभावित खिलाड़ियों की कोर टीम की घोषणा की जिसने रविवार से बेंगलुरु के भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) शिविर में अभ्यास शुरु किया। 
 
खिलाड़ी 27 दिनों तक चलने वाली इस प्रशिक्षण और अनुकूलन शिविर में मारिन की देख-रेख में अभ्यास करेगी। टीम को इस साल जून में एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी और जुलाई-अगस्त में ओलंपिक में हिस्सा लेना है। 
 
मारिन ने कहा, ‘न्यूजीलैंड के दौरे से सीख लेते हुए हमने कुछ ऐसे क्षेत्रों का चयन किया है जिसमें सुधार की जरूरत है, हमारे में इसमें सुधार करने का मौका होगा।’ 
 
भारतीय कोच ने कहा, ‘टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों को लेकर यह हमारे लिए अहम समय है इसलिए आगामी शिविर में फिटनेस पर सबसे ज्यादा ध्यान रहेगा। यही समय है जब हम अभ्यास शिविर में अतिरिक्त मेहनत कर सकते हैं।’ 
 
पिछला एक साल भारतीय महिला टीम के लिए अच्छा रहा जहां उसने एफआईएच महिला सीरीज फाइनल्स, हिरोशिमा 2019, जापान में ओलंपिक परीक्षण प्रतियोगिता और एफआईएच हॉकी ओलंपिक क्वालीफायर्स ओड़िशा में जीत दर्ज की। टीम ने इसके अलावा स्पेन, मलेशिया, कोरिया और इंग्लैंड के दौरे पर शानदार प्रदर्शन किया। 
 
कोर सभावित खिलाड़ियों की सूची इस प्रकार है -
 
गोलकीपर : सविता, राजनी इतिमारपु, बिचू देवी खरिबाम 
 
डिफेंडर : दीप ग्रेस एक्का, रीना खोखर, सलीमा टेटे, मनप्रीत कौर, गुरजीत कौर, निशा 
 
मिडफिल्डर : निक्की प्रधान, मोनिका, नेहा गोयल, लिलिमा मिंज, सुशीला चानू पुखरंबम, सोनिका, नमिता टोप्पो 
 
फारवर्ड : रानी, लालरेमसियामी, वंदना कटारिया, नवजोत कौर, नवनीत कौर, राजविंदर कौर, ज्योति, शर्मिला देवी, उदिता।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख भारतीय मध्यक्रम निश्चित रूप से सुधार कर सकता है: स्मृति मंधाना