Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

जॉर्ज डब्ल्यू बुश ने राष्ट्रपति चुनाव को बताया निष्पक्ष, बाइडेन और हैरिस को दी बधाई

webdunia
सोमवार, 9 नवंबर 2020 (13:01 IST)
वॉशिंगटन। रिपब्लिकन पार्टी के नेता एवं अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश ने कहा है कि अमेरिकी इस बात पर भरोसा कर सकते हैं कि राष्ट्रपति पद के लिए हुए चुनाव 'मूलत: निष्पक्ष थे, इनकी अखंडता बरकरार रखी जाएगी और इनका परिणाम स्पष्ट है'। बुश ने साथ ही कहा कि निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को इसे कानूनी आधार पर चुनौती देने का अधिकार है।
ALSO READ: कंगना रनौट ने जो बाइडेन को बताया 'गजनी', बोलीं- एक साल से ज्यादा नहीं टिक पाएंगे
 बुश ने निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन से फोन पर बात करने के बाद एक बयान में कहा कि उन्होंने बाइडेन को बधाई दी और चुनाव में जीत के बाद राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में 'देशभक्ति का संदेश'देने के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि हालांकि उनके और बाइडेन के बीच राजनीतिक मतभेद हैं, लेकिन वे जानते हैं कि बाइडेन 'एक अच्छे इंसान है' जो देश को एकजुट करेंगे।
बुश ने कहा कि निर्वाचित राष्ट्रपति ने दोहराया कि हालांकि वे डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़े, लेकिन वे सभी अमेरिकियों के लिए काम करेंगे। मैं उनके लिए भी वही कहूंगा, जो मैंने (निवर्तमान) राष्ट्रपति ट्रंप और (पूर्व राष्ट्रपति) बराक ओबामा से कहा था: मैं उनकी सफलता की कामना करता हूं और उनकी हरसंभव मदद करने का संकल्प लेता हूं। उन्होंने निर्वाचित उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को भी जीत की बधाई दी।
बुश ने कड़ी मेहतन से लड़े गए चुनाव के लिए ट्रंप एवं उनके समर्थकों को बधाई दी। ट्रंप ने अपनी हार स्वीकार नहीं की है और चुनाव में अनियमितताओं का आरोप लगाया है। बुश ने कहा कि इस चुनाव में बड़ी संख्या में हमारे नागरिकों ने मतदान किया, जो अमेरिका के लोकतंत्र के स्वास्थ्य के लिए सकारात्मक संकेत है और दुनिया को उसकी ताकत दिखाता है। उन्होंने कहा कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपने कैसे मतदान किया, आपका मत गिना गया।
 
बुश ने कहा कि अमेरिका के लोग इस बात पर भरोसा कर सकते हैं कि यह चुनाव मूलत: निष्पक्ष था, इसकी अखंडता बरकरार रखी जाएगी और इसका परिणाम स्पष्ट है। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

आज भी जारी रहेगी कम्प्यूटर बाबा के खिलाफ कार्रवाई, जेल जाकर नहीं मिलेंगे दिग्विजय सिंह