Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

US Election Results 2020 : जॉर्जिया में रिकाउंटिंग, पेन्सिलवेनिया में ट्रंप से आगे निकले बिडेन

webdunia
शनिवार, 7 नवंबर 2020 (01:07 IST)
वॉशिंगटन। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव (Presidential Election) में राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन (Joe Biden) शुक्रवार को महत्वपूर्ण राज्यों जॉर्जिया (Georgia) और पेन्सिलवेनिया (Pennsylvania) में अपने प्रतिद्वंद्वी और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) से आगे हो गए हैं और वह चुनाव में करीबी मुकाबले में ऐतिहासिक जीत हासिल करने के बेहद करीब दिखाई दे रहे हैं।

जॉर्जिया में रिकाउंटिंग : देर रात खबर मिली है कि जॉर्जिया, जहां जो बिडेन ने ट्रंप के खिलाफ बढ़त बना ली थी, वहां दोबारा मतपत्रों की गिनती की जाएगी। जॉर्जिया के सचिव ब्रैड रैफेंसपर्गर ने कहा कि जैसे-जैसे हम मतगणना के आखिरी दौर में पहुंच रहे हैं, हम अपने अगले कदमों की ओर देखना शुरू कर सकते हैं। उन्होंने साफ किया कि यहां पर रिकाउंटिंग होगी।
 
इससे पहले जॉर्जिया में मतगणना के एक और दौर के बाद बिडेन ने ट्रंप पर बढ़त बना ली। यह लंबे समय से रिपब्लिकन पार्टी का गढ़ रहा है। बिडेन को अब 1096 वोट की बढ़त है। पेन्सिलवेनिया में बिडेन को ट्रंप पर 5,587 मतों की बढ़त है। बुधवार रात तक इस राज्य में ट्रंप 7,00,00 से अधिक वोटों से आगे चल रहे थे।
 
व्हाइट हाउस पहुंचने के लिए किसी को भी 538 ‘इलेक्टोरल कॉलेज वोट’ में से 270 वोट हासिल करना जरूरी है। नवीनतम अनुमानों के अनुसार बिडेन को 264 ‘इलेक्टोरल कॉलेज वोट’ मिले हैं जबकि ट्रंप को 214 मिले है। वहीं ट्रंप ने व्हाइट हाउस में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वह चुनावी कदाचार के खिलाफ अदालत जाएंगे।
 
ट्रंप का प्रचार दल पहले ही पेन्सिलवेनिया, मिशिगन, जॉर्जिया और नवादा में मुकदमे दर्ज करा चुका है। उन्होंने विस्कॉन्सिन में भी मतों की दोबारा गिनती किए जाने की मांग की है। बिडेन के प्रचार दल ने आरोपों से इनकार किया है।
 
बिडेन ने डेलावेयर में पत्रकारों से कहा, ‘जिस तरह की चीजें हैं, उनसे हम बहुत अच्छा महसूस कर रहे हैं। हमें कोई संदेह नहीं है कि गिनती पूरी होने पर मैं और सीनेटर कमला हैरिस (उप राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार) जीत हासिल करेंगे।’ कमला हैरिस भी इस दौरान बिडेन के साथ मौजूद थीं।
 
पूर्व उप राष्ट्रपति बिडेन ने लोगों से मतगणना पूरी होने तक धैर्य बनाए रखने की भी अपील की। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने दावा किया है कि अगर केवल ‘वैध मतों’ की ही गिनती होती तो वह कांटे की टक्कर वाले राष्ट्रपति चुनाव में आसानी से जीत गए होते।
 
व्हाइट हाउस में गुरुवार को संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए ट्रंप ने संकेत दिया कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों का फैसला अंतत: उच्चतम न्यायालय में होगा क्योंकि उन्होंने चुनाव में कथित धांधली के खिलाफ बड़े पैमाने पर वाद दाखिल करने की योजना बनाई है।

फिलाडेल्फिया में मतगणना स्थल के पास बंदूकधारी गिरफ्तार : अमेरिका की फिलाडेल्फिया पुलिस ने बताया कि उन्होंने गुरुवार को राज्य सम्मेलन केंद्र के निकट 2 लोगों को गिरफ्तार किया और उनके पास से बंदूक बरामद की गई।
 
पुलिस ने बताया कि इन लोगों के पास हथियार रखने की अनुमति नहीं थी। इस केंद्र पर राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटों की गिनती चल रही है। पुलिस ने बताया कि उन्हें दिन में सूचना मिली थी कि एक वाहन से कुछ लोग हथियारों के साथ फिलाडेल्फिया के इस केंद्र की ओर बढ़ रहे हैं। पुलिस ने बताया कि वाहन से एक अतिरिक्त बंदूक मिली है।
 
 
ट्रंप के भ्रामक ट्वीट के बारे में एक और चेतावनी : सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्वीटर ने अमेरिका के मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भ्रामक ट्वीट को लेकर एक बार फिर चेतावनी दी है। ट्रंप ने दरअसल शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि चुनाव मतगणना में जुटे पर्यवेक्षकों को मतगणना की निगरानी से बाधित किया गया था।
 
ट्वीटर ने चार नवंबर से अब तक ट्रंप के 12 ट्वीट को अपने प्लेटफार्म से सेंसर किया हैं। ट्‍विटर पर लोगों को ट्रंप का यह ट्वीट देखने के लिए पहले एक नोटिस को पढ़ना होगा, जिसके बाद उनका यह ट्वीट खुलेगा।
 
ट्रंप ने दरअसल ट्वीट कर कहा, 'वैध वोटों के आधार पर मैं अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव को आसानी से जीत गया हूं। मतगणना पर्यवेक्षकों को किसी भी तरह से अपना काम करने नहीं दिया गया और इसलिए इस अवधि के दौरान आये वोटों को अवैध वोट घोषित कर देना चाहिए। अब यह अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट को तय करना चाहिए।'
 
मौजूदा राष्ट्रपति ने इस दौरान ट्‍विटर की कड़ी आलोचना करते हुए धारा 230 का भी जिक्र किया जो इंटरनेट प्लेटफॉर्म और प्रकाशकों के बीच अंतर करने वाली मूलभूत धारा है। उन्होंने कहा, 'ट्विटर नियंत्रण से बाहर है, जिसे धारा 230 के सरकारी उपहार के माध्यम से संभव बनाया गया है।'
 
राष्ट्रपति ट्रंप ने दरअसल मतदान दिवस के बाद प्राप्त किसी भी वोट की गिनती के खिलाफ मुकदमेबाजी की धमकी दी है। अमेरिका चुनावी नतीजों के उनके मुख्य प्रतिद्वंदी जो बिडेन बहुमत के आंकड़े को पाने से कुछ ही सीट (एलेक्ट्रोल) दूर हैं। नतीजों की शुरुआत में हालांकि दोनों नेताओं के बीच में कांटे की टक्कर थी लेकिन जैसे-जैसे वोटों की गिनती होती रही, ट्रंप पिछड़ना शुरू हो गए।
 
एनबीसी न्यूज़ के अनुसार पेन्सिलवेनिया और जॉर्जिया में सभी मतों की गिनती जारी है। इन दोनों राज्यों में 20 और 16 एलेक्ट्रोल मत है। अमेरिका में किसी पार्टी को सरकार बनाने के लिए 270 एलेक्ट्रोल मतों की आवश्यकता है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

IPL 2020 : शेन बांड की नजर में जसप्रीत बुमराह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ T20 गेंदबाज