Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana : वरिष्ठ नागरिकों को पेंशन का फायदा, जानिए प्रधानमंत्री वय वंदना योजना की पूरी जानकारी

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 11 जून 2022 (08:30 IST)
आज बाजार में कई तरह के रिटायरमेंट प्लान हैं। इनमें प्राइवेट के साथ सरकार द्वारा बनाए गए प्लान भी हैं। सरकार द्वारा भी कई भारतीयों के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं। ऐसी ही एक योजना है प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana)।
ALSO READ: Atal Pension Yojana : क्या है अटल पेंशन योजना? कैसे मिलता है लाभ, एक क्लिक पर पूरी जानकारी
प्रधानमंत्री वय वंदना योजना को 4 मई 2017 को भारत भारत सरकार द्वारा देश के वरिष्ठ नागरिकों के लिए शुरू किया गया था।यह योजना सामाजिक सुरक्षा और पेंशन प्लान है। इसे भारत सरकार द्वारा लांच किया गया है। इसका संचालन भारतीय जीवन बीमा निगम- LIC करता है। सभी सामान्य बीमा स्कीम में टर्म इंश्योरेंस पर 18% जीएसटी लगाया जाता है, लेकिन प्रधानमंत्री वय वंदना योजना पर जीएसटी नहीं लगाया जाता।
कितना कर सकते हैं निवेश : प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत अधिकतम निवेश की सीमा 15 लाख रुपए है। इस योजना के तहत सीनियर सिटीजन को निवेश पर अन्य योजनाओं के मुकाबले ज्यादा ब्याज मिलता है। योजना में 60 साल या उससे अधिक उम्र के लोग मासिक या सालाना पेंशन प्लान चुन सकते हैं। अगर आप मासिक पेंशन प्लान का चुनाव करते हैं तो आपको 10 साल तक 8 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा। अगर आप वार्षिक पेंशन का चुनाव करते हैं तो आपको 10 साल के लिए 8.3% का ब्याज मिलेगा। योजना के तहत निवेश करने की अधिकतम सीमा पहले साढ़े सात लाख थी जिसे बढ़ा कर 15 लाख रुपये कर दिया गया है। 
इस तरह कर सकते हैं निवेश : प्रधानमंत्री वय वंदना योजना में आप ऑनलाइन और ऑफलाइन, दोनों तरह से आवेदन कर सकते हैं। एलआईसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। पेंशन की पहली किस्त रकम जमा करने के 1 साल, 6 महीने, 3 महीने या एक महीने बाद मिलेगी। निवेश के आधार पर 1000 से लेकर 9250 रुपए प्रतिमाह की पेंशन प्रदान की जाती है। अगर आपको पॉलिसी लेने के कुछ दिन यदि आप इसमें निवेश जारी नहीं रखना चाहते हैं तो आप इसे वापस ले सकते हैं। ऑनलाइन खरीदने पर 30 दिन में और ऑफलाइन पॉलिसी की दशा में 15 दिन के अंदर इसे वापस लिया जा सकता है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना में कैसे मिलता है इसका लाभ और कैसे करें आवेदन...