Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

...तो सर तन से जुदा, अब गाजियाबाद के डॉक्टर को मिली धमकी

हमें फॉलो करें webdunia

हिमा अग्रवाल

मंगलवार, 13 सितम्बर 2022 (19:09 IST)
गाजियाबाद। गाजियाबाद के एक डॉक्टर को हिन्दू संगठनों का समर्थन करना भारी पड़ रहा है। डॉक्टर को एक विदेशी नंबर से व्हॉट्सएप कॉल पर सर तन से जुटा करने की धमकी मिली है। इसके चलते डॉक्टर अपने परिवार को लेकर चिंतित हैं और उन्होंने पुलिस से इसकी शिकायत भी की है। जिस नंबर से कॉल की है, वह कथित तौर पर अमेरिका का बताया जा रहा है।
 
मामला गाजियाबाद के सिहानी गेट थाना क्षेत्र का है। यहां डॉक्टर अरविंद वत्स का अपना क्लिनिक है। डॉक्टर वत्स को 1 सितंबर की रात्रि में पहली व्हॉट्सएप कॉल आती है जिसे वे सुनते नहीं हैं। 7 सितंबर को उसी नंबर से दूसरी व्हॉट्सएप कॉल आती है जिसमें फोन करने वाला शख्स धमकी देते हुए कहता है कि वे हिन्दू संगठनों का समर्थन नहीं करें, वरना उसका हश्र भी अन्य लोगों की तरह होगा। कन्हैया कुमार जैसा होगा। जैसे उसको मारा था, वैसे ही गुस्ताख-ए-रसूल की सजा के तौर पर तुम्हारा सर भी तन से जुदा कर दिया जाएगा।
webdunia
 
डॉ. अरविंद के मुताबिक फोन पर उन्हें यह कहकर धमकाया जाता है कि प्रधानमंत्री मोदी, मुख्यमंत्री योगी और यति नरसिंहानंद भी तुझे बचा नहीं पाएंगे। तेरे हर एक क्षण की खबर हमारे पास है। चप्पे-चप्पे पर हमारे आदमी तुम्हारी निगरानी कर रहे हैं।
 
इस व्हॉट्सएप काल के बाद डॉक्टर बेहद घबराए हुए हैं। उनकी घबराहट का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि वे मीडिया से बातचीत के दौरान भावुक हो जाते हैं। फिलहाल उन्होंने कॉल की जानकारी पुलिस को देते हुए अपनी शिकायत दर्ज कराई है और पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए अपनी जांच शुरू कर दी है।
डॉक्टर अरविंद वत्स पिछले 20 वर्षों से लोहिया नगर में अपना क्लिनिक चला रहे हैं। उन्हें यूनाइटेड स्टेट्स नंबर से धमकीभरी कॉल आ रही थी। सबसे पहला फोन उनको 1 सितंबर की रात्रि में आया था और नींद में होने के कारण उन्होंने बात नहीं की। फिर दूसरी बार उनको उसी नंबर से 7 सितंबर को धमकीभरा फोन आता है जिसे सुनकर वे डर जाते हैं और पुलिस से मामले की शिकायत करते हैं।
 
पुलिस का कहना है कि वह व्हॉट्सएप कॉल थी जिसे वैरीफाई करवाया जा रहा है। आजकल आधुनिक टेक्नोलॉजी के जरिए आप कहीं भी बैठकर दूसरी कंट्री का कोड लगाकर व्हॉट्सएप कॉल कर सकते हैं। इस नंबर पर पुलिस की साइबर सेल काम कर रही है और जल्दी ही केस को वर्कआउट कर दिया जाएगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

गुजरात में भूपेन्द्र पटेल ही होंगे भाजपा का सीएम चेहरा : अमित शाह