Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कानपुर पुलिस का एक चेहरा यह भी, जब सीसामऊ ACP बोले- वहीं रुको अम्मा मैं आता हूं...

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share

अवनीश कुमार

सोमवार, 5 अप्रैल 2021 (22:34 IST)
कानपुर। उत्तरप्रदेश में कानपुर पुलिस पर आए दिन लगने वाले आरोपों के बीच सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रही है। एक बुजुर्ग महिला की पीड़ा को सुनने के लिए जमीन पर बैठ पुलिस के एक उच्च अधिकारी ने पुलिस की आलोचना करने वालों लोगों का मुंह बंद कर दिया है।

इस फोटो का सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद आम लोग जहां कानपुर पुलिस की तारीफ कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि जहां अभी तक फरियादियों के उत्पीड़न की कहानियां सुनने को मिलती थीं तो वहीं इस फोटो ने कानपुर पुलिस का एक नया चेहरा हम लोगों के सामने लाकर खड़ा किया है।

अम्मा परेशान न हो, सब ठीक होगा :  कानपुर के पुलिस ऑफिस में सीसामऊ एसीपी निशांक शर्मा सुनवाई कर रहे थे। इसी दौरान उनकी नजर एक वृद्धा पर पड़ी और उन्होंने देखा कि वह वृद्धा सीढ़ियां नहीं चढ़ पा रही है। यह देख सीसामऊ एसीपी ने बोला- अम्मा वहीं रुको मैं आता हूं और इतना कहने के बाद वह वृद्ध महिला के पास पहुंच गए और सीढ़ियों पर बैठ गए और वृद्ध की समस्या सुनने के बाद बोले अम्मां आप परेशान न हों, सब ठीक हो जाएगा।

मौके पर मौजूद अन्य फरियादियों ने पुलिस ऑफिस में जमीन पर बैठकर वृद्धा को समझाते हुए एसीपी सीसामऊ निशांक शर्मा को जब लोगों ने देखा तो कहा, यह है असली पुलिस पुलिसिंग और अब असल में लोगों को न्याय मिलेगा। इसके बाद सीतामऊ एसपी की फोटो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होने लगी और उनकी इस फोटो पर लोग कानपुर पुलिस की तारीफ करते हुए नहीं थक रहे हैं। लोग कह रहे हैं यह कमाल कमिश्नर प्रणाली का है क्योंकि जिन अधिकारियों तक आम आदमी नहीं पहुंच पाता था आज उन अधिकारियों तक पहुंचना आसान हो गया है।
 
साहब नाती को ढूंढकर लाओ : नजीराबाद में रहने वाली एक वृद्ध महिला के दो वर्षीय नाती का टीबी से निधन हो गया था। इसके बाद से वृद्ध महिला अपने नाती की तलाश करती रहती है। उन्हें लगता है कि किसी ने उनके नाती का अपहरण कर लिया है। परिजनों का कहना है कि उन्हें बहुत समझाने का प्रयास किया जाता है कि अब उनका नाती इस दुनिया में नहीं है लेकिन वह अपने नाती की मौत को स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं है। वह पुलिस अधिकारियों के पास पहुंचती हैं और अपने नाती को ढूंढ कर लाने की गुजारिश करती हैं। और कहती है साहब मेरे नाती को ढूंढकर ले आओ बहुत याद आती है अपने नाती की।
 
क्या बोले सीसामऊ एसीपी : सीसामऊ एसीपी निशांक शर्मा ने बताया कि वृद्ध महिला की जो शिकायत थी। उसको सुनने के बाद मैं खुद उनके घर गया तो मुझे पता चला कि उनके नाती की मौत टीबी से 2 वर्ष पूर्व हो चुकी है और वह अभी भी इस बात पर विश्वास नहीं कर पा रही हैं कि अब उनका नाती इस दुनिया में नहीं है और उन्हें लगता है उनका नाती कहीं चला गया है।

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
बांग्लादेश : यात्री जहाज से टकराया मालवाहक जहाज, 26 लोगों की डूबने से मौत