Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कानपुर देहात में रिक्शा चालक ने पुलिसकर्मियों से मांगा किराया, पुलिस वालों ने जड़ दिया थप्पड़

हमें फॉलो करें webdunia

अवनीश कुमार

मंगलवार, 28 जून 2022 (21:39 IST)
कानपुर देहात। उत्तरप्रदेश में योगी आदित्यनाथ गरीबों के हक छीनने वाले पर कठोर कार्रवाई करने के दिशा-निर्देश समय-समय पर मीडिया के माध्यम से देते रहते हैं लेकिन वहीं कानपुर देहात में योगी की पुलिस खुद ही गरीबों के हक पर डाका डालती हुई नजर आ रही है।
 
इसी को लेकर सोशल मीडिया पर यह वीडियो तेजी के साथ वायरल हो रहा है और वीडियो में एक गरीब रिक्शा चालक अपना दर्द बयां करते हुए कह रहा है कि 'साहब हमने किराया मांगा तो पुलिस वालों ने थप्पड़ दे दिया और थाने से भगा दिया।' वहीं सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो का संज्ञान लेते हुए यूपी पुलिस ने ऑफिशियल टि्वटर अकाउंट से पूरे मामले की जांच करने के दिशा-निर्देश कानपुर देहात पुलिस को दिए हैं। आपको बता दें कि webduniya.Com वायरल हो रहा है वीडियो की पुष्टि नहीं करता है।
 
पैसे मांगे तो मारे थप्पड़ : कानपुर देहात में वायरल हो रहा वीडियो रसूलाबाद थाना क्षेत्र के अंतर्गत का बताया जा रहा है। इस वायरल वीडियो में ई-रिक्शा चालक कहते हुए नजर आ रहा है कि 2 पुलिस वालों ने पहले रिक्शा रोका और अस्पताल तक कुछ लोगों को ले गए और फिर वापस थाने लेकर चले आए। लेकिन जब उसने पैसे मांगे तो पुलिसकर्मियों ने उसे हड़काना शुरू कर दिया और फिर उसे तमाचे मारकर भगा दिया।
 
वायरल वीडियो में ई-रिक्शा चालक खुद ही साफतौर पर बता रहा है कि पुलिसकर्मी थाना रसूलाबाद में तैनात हैं और वह रसूलाबाद थाने से ही कुछ लोगों को लेकर अस्पताल तक गया था। वहीं वीडियो वायरल होने के बाद कानपुर देहात पुलिस की जमकर किरकिरी भी हो रही है और आम जनमानस गरीब की ई-रिक्शा चालक के हक पर डाका डालने वाल पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मांग करते हुए सोशल मीडिया पर नजर आ रहे हैं।
 
दिया गया जांच के आदेश : सोशल मीडिया पर ई-रिक्शा चालक का वीडियो वायरल होने के बाद यूपी पुलिस में वायरल हो रहा है। वीडियो का संज्ञान लेते हुए ऑफिशियल टि्वटर अकाउंट से कानपुर देहात पुलिस को जांच कर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Udaipur : कन्हैयालाल के 8 साल के बेटे ने अनजाने में व्हाट्‍सऐप पर भेज दी थी पोस्ट, IS स्टाइल में हुई हत्या