क्या बुर्का पहन मुस्लिम महिलाओं को बदनाम करने की कोशिश कर रहा था BJP का कार्यकर्ता... जानिए सच...

शुक्रवार, 9 अगस्त 2019 (17:58 IST)
सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है। वीडियो में एक शख्स बुर्का पहने हुए दिख आ रहा है और उसे भीड़ ने घेर रखा है। भीड़ उसे बुर्का उतारने को कहती है। वीडियो शेयर कर दावा किया जा रहा है कि यह शख्स भाजपा का है और मुस्लिम महिलाओं को बदनाम करने के लिए उसने बुर्का पहन रखा है।

फेसबुक पर इसे यूसुफ खान नामक यूजर ने शेयर किया है। उनके पोस्ट को 900 से ज्यादा लोग लाइक और 9 हजार से ज्यादा लोग शेयर कर चुके हैं। देखें वायरल वीडियो- 



सच क्या है?

वायरल वीडियो में लोग यह कहते हुए सुनाई दिए गए कि उस शख्स को महिला टॉयलेट से निकलते हुए पकड़ा गया है। इसलिए हमने ‘burqa wearing man enters ladies toilet’ कीवर्ड से गूगल पर सर्च किया तो हमें फरवरी 2019 की कई न्यूज रिपोर्ट मिलीं, जो यह बताती हैं कि गोवा पुलिस ने एक शख्स को हिरासत में लिया है, जो बुर्का पहनकर लेडीज टॉयलेट में घुस गया था।

सर्च रिजल्ट में हमें न्यूज एजेंसी ANI की एक न्यूज की भी एक लिंक मिली, जिसमें वायरल वीडियो का ही स्क्रीनशॉट लगा हुआ था। अब यह स्पष्ट हो गया कि वायरल वीडियो उसी घटना का है।

क्या है पूरा मामला-

पणजी बस स्टैंड पर एक शख्स बुर्का पहन लेडीज टॉयलेट के अंदर घुस गया था। उसकी संदिग्ध गतिविधियों को देख टॉयलेट में मौजूद महिलाओं को कुछ शंका हुई। इस पर महिलाओं ने शख्स को घेर लिए और शोर मचाना शुरू कर दिया। महिलाओं का शोर सुनकर बस स्टैंड पर मौजूद यात्री मौके पर पहुंच गए। इस दौरान आरोपी शख्स ने वहां से भागने की कोशिश की, लेकिन यात्रियों ने उसे पकड़ लिया और बाद में पुलिस के हवाले कर दिया। उस शख्स का नाम वर्जिल फर्नांडीस है, जो एक सरकारी कर्मचारी है और वह मानसिक रोगी है।

वेबदुनिया की पड़ताल में पाया गया है कि वायरल वीडियो पर किया जा रहा दावा फर्जी है। वायरल वीडियो में दिख रहा शख्स मानसिक रोगी है। उसका भाजपा से कोई लेना देना नहीं है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख कमजोर ग्राहकी से सोना टूटा, चांदी भी हुई नरम