Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

क्या पटना वाले Khan Sir का असली नाम Amit Singh है? खुद दिया जवाब

webdunia
गुरुवार, 27 मई 2021 (19:06 IST)
(Photo:Screenshot of video shared by Khan GS Research Centre)
बिहारी अंदाज में जीएस के टॉपिक समझाने वाले पटना के ‘खान सर’ एक बार फिर सुर्खियों में हैं। पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर उनके नाम को लेकर विवाद हो रहा है। कुछ लोग दावा कर रहे हैं कि उनका नाम ‘खान सर’ नहीं बल्कि ‘अमित सिंह’ है। ये पूरा विवाद फ्रांस-पाकिस्तान के संबंधों पर डाले गए उनके एक वीडियो से शुरू हुआ।

इस वीडियो में वे बताते हैं कि पाकिस्तान में फ्रांस के राजदूत को देश से वापस भेजने के लिए हो रहे विरोध प्रदर्शनों में बच्चे भी हिस्सा ले रहे हैं। यहां पर विरोध प्रदर्शन करते बच्चे की तस्वीर को पॉइंट करते हुए खान सर बोलते हैं कि ‘बच्चे तुम पढ़ लो, वरना अपने अब्बा की तरह ही पंचर साटते रह जाओगे।’ खान सर वीडियो में आगे कहते सुने जा रहे हैं कि ‘18-19 बच्चे पैदा होंगे तो कोई बर्तन धोएगा, कोई बकरी काटेगा, कोई पंचर ही साटेगा।’



इसी वीडियो क्लिप के वायरल होने के बाद ट्विटर पर #ReportonKhanSir ट्रेंड करने लगा। कई ट्विटर यूजर्स ने वीडियो की आलोचना की और लोगों ने उन्हें ‘संघी’ और ‘इस्लामोफोबिक’ भी बता दिया।



इसके बाद उनके नाम को लेकर बहस छिड़ गई। कुछ लोगों का कहना है कि उनका असली नाम खान सर नहीं है और वो मुसलमान नहीं बल्कि हिंदू हैं और असली नाम अमित सिंह है।


खान सर ने हाल में अपने एक वीडियो में अपने नाम को लेकर हो रहे विवाद पर चर्चा की। इस वीडियो में खान सर ने स्पष्ट किया है कि उनका नाम अमित सिंह नहीं है। उन्होंने कहा कि ‘खान’ उनका नाम नहीं है, बल्कि यह उनका सरनेम है।

हालांकि, चर्चा के दौरान खान सर ने ये साफ नहीं किया कि उनका असली नाम क्या है। खान सर ने कहा, ‘अगर प्यार से पूछा जाता तो शायद मैं अपना नाम बता देता लेकिन अब अगर नाम बता दूंगा तो लोगों को लगेगा कि खान सर डर गया।’
 
बता दें, पटना वाले खान सर यूट्यूब और फेसबुक पर वीडियो बनाकर जीएस पढ़ाते हैं। पढ़ाने के अनोखे अंदाज को लेकर खान सर यूट्यूब पर बहुत ही कम समय में काफी मशहूर हो चुके हैं। खान सर का यूट्यूब चैनल Khan GS Research Center है। इस पर 9.46 मिलियन सब्स्क्राइबर्स हैं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मोदीनगर में नाराज सफाईकर्मियों ने थाने को बनाया कचरा घर