Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Fact Check: क्या बदला गया MP के हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम? जानिए सच

webdunia
बुधवार, 7 जुलाई 2021 (12:13 IST)
सोशल मीडिया पर बीते दिनों मध्य प्रदेश के हबीबगंज रेलवे स्टेशन के बारे में एक खबर वायरल हो गई कि उसका नाम बदलकर महाराजा सिंधुराज रेलवे स्टेशन कर दिया गया है। बता दें कि महाराजा सिंधुराज भारत के परमार राजवंश के राजा थे और राजा भोज के पिता थे। भोपाल के निकट भोजपुर को राजा भोज ने ही स्थापित किया था। आइए जानते हैं इस वायरल दावे की सच्चाई क्या है...

क्या हो रहा है वायरल-

‘जाट समाज’ नाम के वेरीफाइड ट्विटर हैंडल से हबीबगंज रेलवे स्टेशन की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा गया है, “देश का पहला वर्ल्ड क्लास (विश्वस्तरीय) रेलवे स्टेशन बनने जा रहा हबीबगंज रेलवे स्टेशन,भोपाल का नाम बदल कर आज महाराजा सिंधुराज रेलवे स्टेशन रखा गया है। मालवा के विश्व विख्यात राजा भोज के पिता थे महाराजा सिंधुराज। समस्त जाट समाज और पंवार/परमार गोत्र के जाटों को बहुत बहुत शुभकामनाएँ।”



कई अन्य ट्विटर और फेसबुक यूजर्स ने भी इसी तरह का दावा किया है।





क्या है सच्चाई-

पड़ताल शुरू करते हुए हमने गूगल पर वायरल दावे से संबंधित कीवर्ड्स की मदद से सर्च किया। सर्च रिजल्ट में हमें ‘पत्रिका’ वेबसाइट की एक न्यूज रिपोर्ट मिली। रेल मंत्रालय के हवाले से इस रिपोर्ट में कहा गया है कि हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम बदलने की खबर महज एक अफवाह है। हबीबगंज स्टेशन का नाम नहीं बदला गया है।

रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि ओरिजिनल पोस्ट करोंद में रहने वाले हरेंद्र कुशवाहा की फेसबुक आइडी से पोस्ट की गई थी। जब यह पोस्ट वायरल हो गई तो रेलवे ने लिखा कि ‘स्टेशन का नाम नहीं बदला है। पोस्ट से भ्रम फैल रहा है। इसे हटा लीजिए, वरना कार्रवाई होगी।’ इसके बाद युवक ने पोस्ट हटा ली। लेकिन तब तक कई लोग पोस्ट को शेयर कर चुके थे।

बताते चलें, मध्यप्रदेश के भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम बदलने की मांग कर चुके हैं। वहीं, हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखने का एक प्रस्ताव भी है।

वेबदुनिया ने अपनी पड़ताल में पाया कि हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम बदला नहीं गया है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

53 से अफेयर, 4 से शादी, 20 से ठगी, हैरान कर देगी 26 वर्षीय सेना के फर्जी अफसर की कहानी