दांव पड़ गया उल्टा.. भाजपा समर्थकों ने जिसे कांग्रेसी नेता बताकर की आलोचना, वह भाजपा विधायक निकला..

शुक्रवार, 23 नवंबर 2018 (16:15 IST)
चुनावी मौसम में राजनीतिक दल जितनी शिद्दत से कैंपेनिंग करती है, उससे भी कहीं अधिक शिद्दत से विरोधयों की एंटी-कैंपेनिंग भी करती है। भई.. अब तो जमाना सोशल मीडिया का है, तो अपने प्रचार के साथ दूसरों के दुष्प्रचार का रास्ता और आसान हो गया है। इसी कड़ी में एक तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब शेयर हो रही है। वायरल तस्वीर में एक शख्स बिस्तर पर लेटा हुआ है, जिसके हाथ में कुछ कागज हैं और वह फोन पर बात कर रहा है। जबकि कुछ लोग उसके बिस्तर के सामने कतार में खड़े हैं। दावा किया जा रहा है कि बिस्तर पर लेटा यह शख्स कर्नाटक का कांग्रेस नेता है, जिसका नाम महमूद कुरैशी है और वह इसी अंदाज़ में फरियादियों से मिलते हैं।

क्या है सच?

जब हम वायरल पोस्ट पर यूजर्स के कमेंट पढ़ रहे थे, तो हमने पाया कि कई यूजर्स ने वायरल तस्वीर वाले शख्स को राजस्थान के महवा का भाजपा विधायक ओम प्रकाश हुड़ला बताया।

पड़ताल शुरू करते हुए हमने वायरल तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज के जरिए सर्च किया, तो हमें पिछले साल के कई ट्वीट्स मिले, जिसमें यही तस्वीर शेयर की गई थी, लेकिन उसका मजमून कुछ अलग था। उन ट्वीट्स में इस शख्स को महवा का भाजपा विधायक बताया जा रहा था। अभी की तरह पिछले साल भी इस शख्स की आलोचना ही की जा रही थी।



हमने ओम प्रकाश हुड़ला की वेरिफाइड फेसबुक पेज पर उनकी तस्वीरों को वायरल तस्वीर से मैच किया, तो कन्फर्म हो गया कि वह शख्स ओम प्रकाश हुड़ला ही हैं।

हमें उनके फेसबुक अकाउंट से कुछ ऐसी तस्वीरें भी मिले, जो हम आपको भी दिखाना चाहते हैं। देखिए वह तस्वीरें..



दरअसल, नवंबर 2017 में ओम प्रकाश हुड़ला ने एक सरकारी अस्पताल का दौरा किया था। निरीक्षण के दौरान हुड़ला ने टॉयलेट की गंदगी देखकर सवाल किया तो कर्मचारी बगलें झांकने लगे। इसके बाद हुड़ला खुद टॉयलेट में घुसे और अपने हाथों से उसकी सफाई की। ये तस्वीरें सोशल मीडिया के इन दावों पर सवाल उठाता है कि ओम प्रकाश हुड़ला आम लोगों से ‘राजा साहब’ की तरह मिलते हैं।

लेकिन सवाल तो अब भी बरकरार है कि ओम प्रकाश हुड़ला का बिस्तर पर लेटकर ज‍नता की फरियाद सुनने के पीछे कारण क्या था।

पिछले साल जब उनकी तस्वीर वायरल हुई थी, तो एक न्यूज चैनल से बातचीत में हुड़ला ने बताया कि उन्हें अस्थमा की शिकायत है। तबीयत खराब होने पर वे अपने कमरे में जनसुनवाई करते हैं। जिस समय उनके बिस्तर पर लेटे रहने वाली तस्वीर वायरल हुई तब वे काफी बीमार थे। उसी दौरान कुछ लोग उनसे मिलने आए थे। उन लोगों की समस्या आपातकालीन थी इसलिए उन्होंने उनकी बात उसी समय सुनी। तस्वीर को लेकर उन्होंने कहा कि विरोधियों ने गलत अफवाह फैलाई थी।

आपको बता दें कि हाल ही में भाजपा से टिकट कटने के बाद ओम प्रकाश हुड़ला ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। अब वह निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING