चीन की जेलों में भी फैला Corona virus, मृतक संख्या हुई 2200 से अधिक

शुक्रवार, 21 फ़रवरी 2020 (22:20 IST)
बीजिंग। चीन में कोरोना वायरस (Corona virus) का संक्रमण जेलों में भी फैल गया है और इस विषाणु से मरने वालों की संख्या बढ़कर 2200 से भी अधिक हो गई है। इस बीच, देश के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सत्तारुढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के अधिकारियों को शुक्रवार को चेतावनी दी है कि इस घातक विषाणु का संक्रमण अभी चरम पर नहीं पहुंचा है।

चीन के स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने शुक्रवार को जानकारी दी कि कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 2236 हो गई है और संक्रमण के मामले बढ़कर 75567 हो गए हैं। इनमें से अधिकतर मामले सर्वाधिक प्रभावित हुबेई प्रांत से हैं।

सरकारी प्रसारक सीसीटीवी के अनुसार, शी ने शुक्रवार को कम्युनिस्ट पार्टी के पोलित ब्यूरो की बैठक में कहा कि संक्रमण के रोजाना दर्ज होने वाले मामलों में गिरावट के बावजूद कोरोना वायरस महामारी चरम पर नहीं पहुंची है।

उन्होंने कहा कि हुबेई में स्थिति अब भी गंभीर है। ‘साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट’ ने शी के हवाले से कहा, हुबेई प्रांत और वुहान को बचाने के लिए जंग अच्छी तरह लड़ी जानी चाहिए और संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कदम उठाए जाने चाहिए। चीन में इस विषाणु के चरम पर पहुंचने का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है, क्योंकि इसके चरम पर पहुंचने के बाद संक्रमण कम होना शुरू हो जाएगा।

यह बीमारी अब चीन की पांच जेलों में भी फैल गई है जहां इसके संक्रमण के 447 मामले सामने आए हैं। चीन की जेलों में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सामने आने के बाद कई अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया गया है।

न्याय मंत्रालय में जेल प्रशासन निदेशक ही पिंग ने बताया कि अधिकतर मामले हुबेई की राजधानी वुहान की महिला जेल में सामने आए हैं। कम्युनिस्ट पार्टी के स्थानीय अखबार हुबेई डेली के अनुसार, वुहान महिला जेल वार्डन को वायरस के प्रकोप को रोकने में विफल रहने के कारण हटा दिया गया है। अधिकारियों ने बताया कि पूर्वी शेडोंग प्रांत की रेनचेंग जेल में सात गार्ड और 200 कैदियों के वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

इस संबंध में शेडोंग के न्याय विभाग के प्रमुख शी वेइजुन और सात अन्य अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया गया है। एक अन्य जेल से 34 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की खबर है। एक अधिकारी ने हालांकि कहा कि कोरोना वायरस के कारण जेलों में किसी की मौत होने की कोई खबर नहीं है।

इस बीच, चीन ने हैनान प्रांत में होने वाली अपनी सबसे प्रतिष्ठित वार्षिक बैठक ‘बाओ फोरम फॉर एशिया’ को स्थगित कर दिया। चीन इस बैठक के लिए विश्व के शीर्ष नेताओं को अर्थव्यवस्था, व्यापार एवं संबंधित मामलों पर चर्चा के लिए आमंत्रित करता है। यह बैठक 24-27 मार्च को होने की संभावना थी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख FIFA विश्व कप ग्रुप ई में भारत का मुकाबला कतर से भुवनेश्वर के कलिंग स्टेडियम में