Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

महाराष्ट्र में कोरोना का नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 23 हजार से ज्यादा केस, क्या लगेगा Lockdown?

webdunia
बुधवार, 17 मार्च 2021 (22:10 IST)
मुबंई। महाराष्ट्र में कोरोना बेकाबू हो गया है। राज्य में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच उद्धव ठाकरे सरकार ने कई शहरों में लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू जैसे कई प्रतिबंधों की घोषणा की है, हालांकि वहां कोरोना का कहर कम नहीं हो रहा। महाराष्ट्र में बुधवार को कोरोना ने नया रिकॉर्ड बनाया है। महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में कोरोना के को कोरोना के 23,179 नए मामले सामने आए और इस दौरान 84 लोगों की मौत हो गई। इस दौरान 9,138 लोग इस जानलेवा वायरस से ठीक हुए हैं।
 
महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 23,70,507 पहुंच गया है और अब तक 53,080 लोगों की मौत हो चुकी है। राज्य में अब तक 21,63,391 लोग इससे ठीक हो चुके हैं और फिलहाल 1,52,760 एक्टिव केस हैं। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भी लापरवाही पर लॉकडाउन की चेतावनी दे चुके हैं।

विशेषज्ञों ने कहा- दूसरी लहर : कोविड-19 के मामलों में वृद्धि संक्रमण की 'पहली लहर में हुई हरकत' नहीं बल्कि 'दूसरी बड़ी लहर' है। समाचार चैनल ‘एनडीटीवी 24/7’ पर केईएम अस्पताल के डीन हेमंत देशमुख ने बुधवार को यह बात कही। उन्होंने कहा कि संक्रमण के मामलों में हो रही वृद्धि से अब स्थिति भयावह हो गई है।
 
देशमुख ने टीवी चैनल पर कहा, “यह पहली लहर में हुई हरकत नहीं है बल्कि दूसरी बड़ी लहर है जो शुरू हो रही है। उन्होंने कहा कि इस बार मौत की दर कम है और ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि संक्रामक क्षमता कम है।
 
उन्होंने कहा कि वायरस लगातार अपना स्वरूप बदल सकता है और निश्चित तौर पर इससे अलग तरह का कोरोना वायरस उत्पन्न हो रहा है और मार्च 2021 में एक अलग तरह का कोविड-19 सामने आ रहा है। 
 
संक्रमण पर राज्य सरकार द्वारा नियुक्त कार्यबल के सदस्य ओम श्रीवास्तव ने अलग राय देते हुए कहा कि यह कहना कठिन है कि संक्रमण के मामलों में हालिया वृद्धि महामारी की दूसरी लहर है या नहीं और इस निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए संक्रमण के विभिन्न कारणों का वैज्ञानिक विश्लेषण करना जरूरी है। उन्होंने पीटीआई से कहा कि लोगों को कोविड-19 से बचाव के सभी नियमों का पालन करना चाहिए। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने राज्य के मुख्य सचिव सीताराम कुंटे को लिखे पत्र में कहा था कि 'महाराष्ट्र में कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर की शुरुआत होने जा रही है।'
webdunia
30 विद्यार्थी कोरोना की चपेट में : पालघर जिले में एक आश्रम विद्यालय के 30 विद्यार्थी और एक शिक्षक कोरोनावायरस से संक्रमित पाए गए हैं। तालुका चिकित्सा कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि इस सप्ताह के शुरू में दो विद्यार्थियों में वायरल संक्रमण के कुछ लक्षण दिखने के बाद ये मामले सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि नंदोर सरकारी आश्रम विद्यालय के 193 विद्यार्थियों में से मंगलवार को 30 विद्यार्थी इस वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इन मामलों के सामने आने के बाद विद्यालय को एक कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार संक्रमित बच्चों और शिक्षक का जिले में कोविड-19 केन्द्र में इलाज चल रहा है।
औरंगाबाद में बढ़ते मरीज : औरंगाबाद जिले में कोरोनावायरस के 1,271 नए मामले सामने आने के साथ ही संक्रमण की चपेट में आए मरीजों की संख्या 60,100 हो गई है। एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि मंगलवार को आए इन नए मामलों के साथ ही सात और लोगों की संक्रमण से मौत हो चुकी है जिससे जिले में मृतकों की संख्या बढ़कर 1,351 हो गई है।
ALSO READ: इंदौर : कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच डॉ. भूरे सिंह सेतिया नए CMHO, नाइट कर्फ्यू के लिए जारी हुए नए आदेश
उन्होंने बताया कि अभी तक 52,073 लोग कोविड-19 से स्वस्थ हो चुके हैं जबकि जिले में अब भी 6,676 मरीज संक्रमित हैं। महानगरपालिका के एक अधिकारी ने बताया कि मंगलवार को 716 दुकानदारों की जांच की गई और उनमें से 61 संक्रमित पाए गए। महानगरपालिका की स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. नीता पडलकर ने  बताया कि एएमसी कोविड-19 मरीजों के लिए बिस्तरों की संख्या 5000 तक बढ़ा रही है। उन्होंने कहा कि जो इमारतें हमने पहले अधिगृहित की थी उन्हें कोविड-19 देखभाल केंद्र बनाया जा रहा है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

इंदौर : कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच डॉ. भूरे सिंह सेतिया नए CMHO, नाइट कर्फ्यू के लिए जारी हुए नए आदेश