UP में बेकाबू हुआ Coronavirus, आरोग्य सेतु ऐप बन रहा है मददगार

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

गुरुवार, 16 जुलाई 2020 (22:54 IST)
लखनऊ। उत्तरप्रदेश में कोरोना संक्रमण खतरनाक रूप अख्तियार कर रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 2083 नए मामले सामने आए हैं जबकि 34 मरीजों की मृत्यु हो गई। कोरोनाकाल में आरोग्य सेतु ऐप सरकार के लिए बड़ा मददगार बन रहा है। राज्य में एक्टिव मामलों की कुल संख्या 15,720 है। प्रदेश में अब तक 26 हजार 675 मरीज स्वस्थ हो चुके है वहीं 1046 मरीजों की मृत्यु हो गई है।
 
पिछले 24 घंटों में कितने मामले आए : राज्य में कोरोना संक्रमण को हवा देने में राजधानी लखनऊ, नोएडा और गाजियाबाद अहम भूमिका अदा कर रहे हैं। पिछले 24 घंटे में लखनऊ में कोरोना के 308 नए मामले सामने आए जबकि 62 स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए गए। जिले में 1971 मरीजों का इलाज फिलहाल किया जा रहा है जो प्रदेश में सर्वाधिक है। पिछले 24 घंटे में नोएडा में 143, गाजियाबाद में 179 और झांसी में 113 नए केस मिले वहीं चंदौली में 100, मेरठ में 63, कानपुर में 51, मुरादाबाद में 59, वाराणसी में 78, प्रयागराज में 56, गोरखपुर में 49, हरदोई में 58, बलिया में 67 और सोनभद्र में 52 नए मामले सामने आ चुके हैं।

CM कार्यालय परिसर में कोरोना की दस्तक : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोकभवन में पंचम तल पर बैठते हैं। इसी परिसर में स्थित सी ब्लॉक में सचिवालय के विभिन्न कार्यालयों के साथ ही भूतल पर सीएम सोशल मीडिया सेल है। इसके साथ एक प्रशिक्षु आईएएस अफसर भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं।
 
13 लाख से अधिक नमूनों की जांच : उत्तरप्रदेश सरकार ने दावा किया है कि राज्य में अब तक 13 लाख से अधिक सैम्पलों की जाच की गई है। अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद के मुताबिक प्रदेश में टेस्टिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। राज्य में बुधवार को एक दिन में सर्वाधिक 48,086 सैम्पल की जांच की गई। कोविड-19 की जांच में 13 लाख का आंकड़ा पार करते हुए राज्य में अब तक कुल 13,25,327 सैम्पल की जांच की गई है।

आरोग्य सेतु ऐप बन रहा है मददगार : प्रसाद ने बताया कि आरोग्य सेतु ऐप से अलर्ट जनरेट आने पर कन्ट्रोल रूम द्वारा निरंतर फोन किया जा रहा है। अलर्ट जनरेट होने पर अब तक लगभग 2,66,785 लोगों को कंट्रोल रूम द्वारा फोन कर जानकारी प्राप्त की गई। उन्होंने बताया कि सीएम हेल्प लाइन से भी निरंतर फोन किया जा रहा है। 
 
कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना : प्रसाद ने बताया कि सभी कार्यालयों, औद्योगिक प्रतिष्ठानों एवं अन्य ऐसे स्थान जहां लोगों की भीड़ इकट्ठा होती है, वहां पर कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना की गई है। प्रदेश में अब तक 54,579 हजार कोविड हेल्प डेस्क विभिन्न विभागों थानों, तहसीलों, विकासखंडों तथा औद्योगिक इकाइयों में स्थापित किए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि कोविड हेल्प डेस्क एक उपयोगी प्लेटफार्म है। उन्होंने बताया कि सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने पर 500 रुपए के जुर्माने का प्रावधान किया गया है। बिना मास्क के मिलने पर हर बार 500 रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा।
 
विश्वविद्यालय की परीक्षाएं स्थगित : कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए प्रदेश के सभी राज्य विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों के अंतिम वर्ष या सेमेस्टर को छोड़कर बाकी परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। आखिरी वर्ष या सेमेस्टर की परीक्षाएं सितंबर में कराई जाएंगी।
बंद रहेगा चिडि़याघर : लॉकडाउन के मद्देनजर लखनऊ स्थित नवाब वाजिद अलीशाह प्राणी उद्यान (चिड़ियाघर) बंद रहेगा जबकि सोमवार को साप्ताहिक बंदी के दिन अन्य दिवसों की भांति नियमित रूप से दर्शकों के लिए खोला जाएगा।

प्राणी उद्यान के निदेशक आरके सिंह के मुताबिक चिड़ियाघर में कोरोनावायरस से बचाव के लिए उसके दोनों प्रवेश द्वारों पर सैनेटाइजर रखवा दिया गया है। टिकट विंडो पर भी सैनेटाइजर रखवाया गया है ताकि दर्शक टिकट लेने के पूर्व सैनेटाइजर का उपयोग कर टिकट लें।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख कप्तानी और बल्लेबाजी में Dhoni के नक्शेकदम पर चलते हैं अंडर-19 टीम के कप्तान प्रियम‍ गर्ग