Corona Virus : बिना परीक्षण वाली दवाओं का इस्तेमाल खतरनाक, WHO की चेतावनी

मंगलवार, 24 मार्च 2020 (07:28 IST)
जिनेवा। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सोमवार को चेतावनी दी कि कोविड-19 के उपचार में बिना परीक्षण वाली दवाओं का इस्तेमाल खतरनाक हो सकता है और इससे झूठी उम्मीदें जग सकती हैं।
ALSO READ: Good News : चीन में Corona virus काबू में, वुहान में प्रतिबंधों में ढील शुरू, 2 महीने चला Lockdown
डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टीए गेब्रेएसस ने कहा कि बिना सही साक्ष्य के बिना परीक्षण वाली दवाओं का इस्तेमाल करने से झूठी उम्मीदें जग सकती हैं और यह लाभ के बजाए ज्यादा नुकसान कर सकती हैं और आवश्यक दवाओं की कमी हो सकती है जिनकी जरूरत अन्य बीमारियों के उपचार में होती हैं।
 
कोरोना वायरस की संख्या 3.50 लाख से अधिक हुई : पेरिस से मिले समाचार के अनुसार पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 3 लाख 50 हजार से अधिक हो गई है। एएफपी के आंकड़ों के मुताबिक पिछले वर्ष के अंत में महामारी के फैलने के बाद से सोमवार तक इतने मामले सामने आए हैं।
ALSO READ: ईरान में Corona से 127 और लोगों की मौत
पूरी दुनिया में कम से कम 3 लाख 50 हजार 142 संक्रमण, 15,873 मौतें हुई हैं जिनमें अधिकतर मामले चीन (81,093) और इटली (63,927) में सामने आए। आधिकारिक आंकड़े वास्तविक संख्या का कुछ प्रतिशत ही हो सकते हैं, क्योंकि कई देश ऐसे मामलों की ही जांच कर रहे हैं जिनमें अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत है।
 
कोविड-19 महामारी तेज हो रही : विश्व स्वास्थ्य संगठन (जेनेवा) ने सोमवार को आगाह किया कि कोविड-19 महामारी स्पष्ट तौर पर तेज गति से फैल रही है। हालांकि संगठन ने कहा कि प्रकोप के इस रुख को बदलना संभव है।
 
संगठन के प्रमुख टेड्रॉस गेब्रयासस ने पत्रकारों से कहा कि महामारी तेज हो रही है। उन्होंने कहा कि पहले मामले से 1,00,000 मामले तक पहुंचने में 11 दिन लगे, दूसरे 1,00,000 मामले तक पहुंचने में भी 11 दिन लगे और तीसरे 1,00,000 मामले सिर्फ 4 दिनों में सामने आए। लेकिन उन्होंने कहा कि हम असहाय नहीं हैं। हम इस महामारी पर जीत हासिल कर सकते हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख एक्शन में दिल्ली पुलिस, शाहीन बाग से प्रदर्शनकारियों को हटाने की कार्रवाई