Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

गुजरात में सियासी ड्रामा, आप ने लगाया अपहरण का आरोप, नामांकन वापस लेने पहुंचे कंचन जरीवाला

हमें फॉलो करें webdunia
बुधवार, 16 नवंबर 2022 (13:38 IST)
सूरत। गुजरात में बुधवार को राजनीति उस समय और गरमा गई जब आम आदमी पार्टी ने सूरत ईस्ट से अपने उम्मीदवार कंचन जरीवाला के अपहरण का आरोप लगाया। हालांकि इस आरोप के कुछ ही समय बाद कंचन नामांकन वापस लेने चुनाव अधिकारी के दफ्तर पहुंच गए। 
 
सूरत ईस्ट सीट पर आम आदमी पार्टी के उतरन के बाद मुकाबला त्रिकोणीय हो गया था। पिछली बार बहुत कम अंतर से जीती भाजपा के लिए आप की मौजूदगी मुश्किल का सबब बन सकती थी। कांग्रेस से असलम साइकिलवाला चुनाव लड़ रहे हैं, जबकि भाजपा ने मौजूदा विधायक अरविंद राणा पर ही भरोसा जताया है। 
 
भाजपा के लिए मुश्किल पैदा कर सकते थे जरीवाला : बताया जा रहा है कि यदि कंचन जरीवाला इस सीट पर भाजपा के ही वोट काटते और यदि उन्हें 10 से 15 हजार वोट भी मिल जाते तो भाजपा के लिए यह सीट निकालना मुश्किल हो जाता। ऐसे में कहा तो यह भी जा रहा है कि कंचन जरीवाला का नाम वापस लेना भाजपा की ही चुनावी रणनीति का हिस्सा है। 
webdunia
इससे पहले आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार ईसुदान गढ़वी ने ट्‍वीट कर कहा था कि जरीवाला का बीजेपी के गुंडों ने अपहरण कर लिया है। कंचन और उनका परिवार लापता है। 
 
मनीष सिसोदिया का धरना : दूसरी ओर, जरीवाला द्वारा नाम वापस लिए जाने के मामले में दिल्ली के डिप्टी सीएम और आप नेता मनीष सिसोदिया चुनाव आयोग के दफ्तर के सामने धरने पर बैठ गए। उन्होंने कहा कि मैं दोपहर 2 बजे चुनाव आयोग जाने वाला था, लेकिन अब आपात स्थिति है। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Gujarat assembly election: पहले चरण में मिले 999 वैध नामांकन पत्र, मतदान 1 दिसंबर को