नेपाल में गैस रिसाव से 8 भारतीय पर्यटकों की मौत, केरल में शोक की लहर

मंगलवार, 21 जनवरी 2020 (19:47 IST)
काठमांडू। नेपाल में एक रिजॉर्ट के कमरे में संदिग्ध गैस रिसाव के कारण मंगलवार को 4 बच्चों समेत 8 भारतीय पर्यटकों की मौत हो गई। पुलिस अधीक्षक सुशील सिंह राठौर ने बताया कि रिजॉर्ट के कमरे में बेहोश मिले इन भारतीय नागरिकों को एचएएमएस अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

हिमालय टाइम्स की खबर के अनुसार 2 दंपत्ति और 4 बच्चे, 15 लोगों के उस समूह का हिस्सा थे जो केरल से पोखरा गया था। वे अपने घर वापस लौट रहे थे और सोमवार की रात मकवानपुर जिले के दमन में एवरेस्ट पैनोरमा रिजॉर्ट में रुके थे।
 
रिजॉर्ट के प्रबंधक के अनुसार, ये लोग एक कमरे में रूके थे और उन्होंने खुद को गर्म रखने के लिए गैस हीटर चालू किया। प्रबंधक ने बताया कि पर्यटकों ने कुल 4 कमरे बुक किए थे और उनमें से 8 लोग एक कमरे में रुके हुए थे और शेष अन्य कमरे में ठहरे थे। कमरे की सभी खिड़कियां और दरवाजे अंदर से बंद थे।
 

केरल में शोक की लहर, मृतकों की हुई पहचान : उक्त दु:खद घटना के बाद केरल में शोक की लहर छा गई। मृतकों की पहचान प्रबीन कुमार नायर (39), शरण्या (34), रंजीत कुमार टीबी (39), इंदु रंजीत (34), श्री भद्रा (9), अबिनाब सोराया (9), अबी नायर (7), और बैष्णब रंजीत (2) के रूप में हुई है।
 
परिवार के एक सदस्य ने बताया कि दोनों आईटी पेशेवर प्रबीन कुमार नायर और रंजीत इंजीनियरिंग कॉलेज के सहपाठी और मित्र थे और दिल्ली में अपने पुराने मित्रों से मिलने के बाद उन्होंने इस यात्रा की योजना बनाई थी।
 
तिरुवनंतपुरम के चेमपजंथी के रहने वाले प्रबीन दिल्ली में एक इंजीनियर थे जबकि उनकी पत्नी शरण्या तीन बच्चों के साथ कोच्चि में रह रही थी। एक पड़ोसी ने बताया कि प्रबीन और उनका परिवार पिछले साल सितम्बर में ओणम उत्सव के दौरान यहां अपने घर आया था, जहां उनके अभिभावक रह रहे थे।
 
परिवार के एक मित्र ने बताया कि प्रबीन के माता-पिता को केवल यह बताया गया है कि वे एक हादसे का शिकार हो गए हैं। उन्होंने टेलीविजन चैनलों को बताया, हमने उन्हें उस त्रासदी के बारे में नहीं बताया है जो भयावह थी।
 
परिवार के एक सदस्य ने बताया कि रंजीत तिरुवनंतपुरम में एक आईटी फर्म में कार्यरत थे जबकि उनकी पत्नी इंदु कोझिकोड में एक सहकारी बैंक में लेखाकार थी। रंजीत के बड़े माधव बच गये क्योंकि वह एक अन्य कमरे में सो रहे थे।
 
इस घटना पर दुख जताते हुए केरल के पर्यटन मंत्री कदकम्पल्ली सुरेंद्रन ने कहा कि सरकार ने राज्य के डीजीपी को नेपाल पुलिस के संपर्क में रहने और आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।

भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने घटना पर दु:ख जाहिर किया। उन्होंने ट्वीट किया, 'नेपाल में 8 भारतीय पर्यटकों की मौत त्रासदपूर्ण खबर से दु:खी हूं। नेपाल में हमारा दूतावास स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। दूतावास के अधिकारी अस्पताल में मौजूद हैं और जरूरी सहायता उपलब्ध करा रहे हैं। पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना जाहिर करता हूं।'

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख कोलकाता पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 105 करोड़ की 25 किलो हेरोइन जब्त